Latest News

प्रवासियों की कराएं जांच, दुरुस्त रहें प्रबंध: डीएम

बैठक कर बताया प्रगति, अधिकारियों को व्यवस्थाएं चैकस रखने के दिए निर्देश 

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में कोरोना वायरस के बचाव से संबंधित बैठक संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने बताया कि दो मई तक 3498 मीट्रिक टन गेहूं खरीद, 32 गौशालाओं का निरीक्षण, 44 ग्राम पंचायतों पर ब्लीचिंग का छिड़काव, 3 ग्राम पंचायतों पर कोरोना वायरस रोकथाम की जानकारी, 265 हैंडपंपों का रिबोर, 47 टैंकरों के माध्यम से पानी की व्यवस्था, कंट्रोल रूम में आठ समस्याएं भोजन, राशन की मिलने पर तत्काल निस्तारण, पोस्टमैनो ने 553 लोगों के मध्य पैसो का वितरण, 2300 आरोग्य सेतु एप डाउनलोड, 5218 निराश्रित एवं असहाय लोगो के मध्य भोजन बांटने के साथ ही टेलीमेडिसिन के माध्यम से 199 मरीजों का इलाज व निशुल्क दवाएं, 1311 कुंतल भूसा दान, प्रत्येक खण्ड विकास अधिकारी ने 5-5 गांव का भ्रमण कर आवश्यक व्यवस्थाओं का जायजा लिया है। जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारियों तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से कहा कि जो प्रवासी बाहर से आ रहे हैं उनकी तत्काल जांच कराएं। अगर वह संक्रमित पाए जाए तो आइसोलेशन पर भेजें। जिनकी संक्रमित नहीं हुई है उन्हें होम क्वॉरेंटाइन करें। कहा कि शासन के दिशा निर्देशों का गहनता से अध्ययन कर कार्यवाही कराएं। गु्रप में डाले जाने वाले पत्र का अध्ययन अवश्य करें। उन्होंने कहा कि गांव में ग्राम निगरानी समिति, शहर में मोहल्ला वार्ड समितियों का जो गठन किया गया है उन्हें सक्रिय कर सभी वार्डों तथा गांव में बैठकें जरूर करें। कर्तव्यों की जानकारी दें। उन्होंने यह भी कहा कि
बैठक में निर्देश देते डीएम।
जहां पर आशा तथा एएनएम नहीं है वहां आंगनबाड़ी कार्यकत्री को सक्रिय कर लगाएं। वार्डवार सुपरवाइजर नियुक्त करें। उन्होंने खंड विकास अधिकारियों से कहा कि ग्राम पंचायत में समिति से प्रतिदिन रिपोर्ट अवश्य प्राप्त करें। रिपोर्ट को मुख्य चिकित्सा अधिकारी की सूची से मिलान हो कितने लोग गांव में आए हैं। स्वास्थ्य परीक्षण शत प्रतिशत हो। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से कहा कि सभी चिकित्सकों तथा स्टाफ को सुरक्षित रखें। किसी को कोई असुविधा नहीं होना चाहिए। सभी लोगों को सुरक्षित रखना दायित्व है। सभी चिकित्सालयों पर पर्याप्त सुविधाएं रहे। आशा कार्यकत्रियों को सक्रिय कर जो लोग बाहर से आ रहे हैं उन्हें होम क्वॉरेंटाइन अवश्य कराया जाए। उन्होंने आरोग्य सेतु के डाउनलोड पर सभी अधिकारियों से कहा कि आम जनमानस में प्रसार कर प्रगति बढ़ाएं। खंड विकास अधिकारियों से कहा कि जो लोग गांव में बीमार हैं उनको ग्राम प्रधान के माध्यम से सीएससी केंद्रों पर पहुंचाकर टेलीमेडिसिन का लाभ दिलाया जाए। कंट्रोल रूम के प्रभारी से कहा कि जो शिकायतें प्राप्त होती है उनका तत्काल निस्तारण कराया जाए। संबंधित व्यक्ति से फीडबैक अवश्य लें। जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी से कहा कि खाद्यान्न वितरण में लगे नोडल अधिकारियों को देखें कि वह खाद्यान्न वितरण कराने जाते हैं या नहीं। फीडबैक लिया जाए। उन्होंने कहा कि खाद्यान्न वितरण में कहीं पर कोई समस्या प्राप्त नहीं होनी चाहिए। उन्होने विभिन्न योजनाओं से संबंधित समीक्षा की। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक बलवंत चैधरी, उप जिलाधिकारी, खण्ंड विकास अधिकारी सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

No comments