Latest News

देश आज सुरक्षित हाथों में है..........................

 देवेश प्रताप सिंह राठौर 
(वरिष्ठ पत्रकार)

 हम किसी की बुराई करना तो आसान है परंतु उसके कार्यों की तुलना में पिछले सरकारों के कार्यकाल में विकास गति आज की विकास गति में आपको दिखाई दे जाएगा कौन प्रधानमंत्री देश हित के लिए देश को मजबूत करने के लिए देश के हर क्षेत्र में कार्य करने के लिए जिसमें देश का विकास हो उसमें सब प्रथम नाम अगर लिया जाएगा तो वर्तमान प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का बुराई करना किसी में कमी ढूंढना बहुत आसान है। परंतु आज भारत की जो स्थित है पूरा विश्व भारत के प्रधानमंत्री की तारीफ कर रहा है ,आज कोरोना के संकट में भारत बड़ी कठिन समस्या से जूझ रहा है परंतु देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा देश के मुखिया होने के नाते यहां की 130 करोड़ जनता को अपने प्रधानमंत्री पर पूरा भरोसा है यह संकट कोरोना वायरस का समय l कट जाएगा ,बहुत जगह सुनते हैं लोगों की प्रतिक्रिया होती है कहीं आज देश की वाग डोर और विपक्ष के हाथ में होती देश आज काफी परेशानियों से ग्रस्त होता ।आज प्रगति के पथ पर चलने वाला भारत नरेंद्र मोदी जी की सरकार में कोराना वायरस आ जाने से जो विकास सोचा था श्री मोदी जी ने उसमें कुछ अड़चनें आ गई क्योंकि देश आज अन्य देशों की अपेक्षा कोरोना वायरस से बेहतर स्थिति में है।l इसका मुख्य श्रेय देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है उनके द्वारा लिए गए निर्णय समय पर आज विश्व में भारत की तारीफ हो रही है। बहुत से लोग विरोधी है विरोधकरते हैं वह भी देख रहे हैं समझते हैं लेकिनपार्टी पार्टी के विरुद्ध नहीं बोलने की स्थित है दिखाई देते हैं आज 130 करोड़ जनता कह सकती है नरेंद्र मोदी है तो सब कुछ मुमकिन है ।इसलिए बहुत से ऐतिहासिक फैसले हुए जो 70 साल में नहीं हुए और 6 साल में सारे के सारे देशहित के निर्णय जो बहुत पहले होने चाहिए थे और श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा पूरा वादा निभाया आज भारत देश उनके हाथों में होने के कारण देश सुरक्षित है और मजबूत है। नरेंद्र मोदी जी द्वारा देश में कितनी योजनाएं कितने कार्य
किए अपने कार्यकाल में और आज भी कर रहे हैं उनका कुछ विवरण आपके समक्ष रख रहा हूं , 30 मई 2019 को दुबारा प्रधानमंत्री बनने पर भारत के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली, जो उनके दूसरे कार्यकाल की शुरुआत थी। आजादी के बाद पैदा होने वाले पहले प्रधानमंत्री, श्री मोदी ने पहले 2014 से 2019 तक भारत के प्रधानमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला है। उन्होंने अक्टूबर 2001 से मई 2014 तक लंबे समय तक गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में अपना पद संभाला है।2014 और 2019 के संसदीय चुनावों में श्री मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी ने दोनों अवसरों पर पूर्ण बहुमत हासिल किया। आखिरी बार 1984 के चुनावों में किसी राजनीतिक दल ने पूर्ण बहुमत हासिल किया था।सबका साथ, सबका विकास, सबका विकास' के आदर्श वाक्य से प्रेरित होकर, श्री मोदी ने शासन व्यवस्था में एक ऐसे बदलाव की शुरुआत की और समावेशी, विकासोन्मुख और भ्रष्टाचार-मुक्त शासन का नेतृत्व किया। प्रधानमंत्री ने अंत्योदय के उद्देश्य को साकार करने और समाज के अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति को सरकार की योजनाओं और पहल का लाभ मिले यह सुनिश्चित करने के लिए स्पीड और स्केल पर काम किया है।विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियों ने इस बात को माना कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत रिकॉर्ड गति से गरीबी को खत्म कर रहा है। इसका श्रेय केंद्र सरकार द्वारा गरीबों के हित को ध्यान में रखते हुए लिए गए विभिन्न फैसलों को जाता है।ज भारत दुनिया के सबसे बड़े स्वास्थ्य सेवा कार्यक्रम आयुष्मान भारत का नेतृत्व कर रहा है। 50 करोड़ से अधिक भारतीयों को कवर करते हुए आयुष्मान भारत गरीब और नव-मध्यम वर्ग को उच्च गुणवत्ता और सस्ती स्वास्थ्य सेवा सुनिश्चित कर रहा है।दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित स्वास्थ्य पत्रिकाओं में से एक लांसेट ने आयुष्मान भारत की सराहना करते हुए कहा है कि यह योजना भारत में स्वास्थ्य क्षेत्र से जुड़े असंतोष को दूर कर रही है। पत्रिका ने सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज को प्राथमिकता देने के लिए पीएम मोदी के प्रयासों की भी सराहना की।देश की वित्तीय धारा से दूर गरीबों को वित्तीय धारा में लाने के लिए प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री जन धन योजना शुरू की, जिसका उद्देश्य प्रत्येक भारतीय का बैंक खाते खोलना था। अब तक 35 करोड़ से अधिक जन धन खाते खोले जा चुके हैं। इन खातों ने न केवल गरीबों को बैंक से जोड़ा, बल्कि सशक्तीकरण के अन्य रास्ते भी खोले हैं।जन-धन से एक कदम आगे बढ़ते हुए श्री मोदी ने समाज के सबसे कमजोर वर्गों को बीमा और पेंशन कवर देकर जन सुरक्षा पर जोर दिया। जन धन- आधार- मोबाइल ने बिचौलियों को समाप्त कर दिया है और प्रौद्योगिकी के माध्यम से पारदर्शिता और गति सुनिश्चित की हैlसंगठित क्षेत्र से जुड़े 42 करोड़ से अधिक लोगों के पास अब प्रधानमंत्री श्रम योगी मान धन योजना के तहत पेंशन कवरेज मिली है। 2019 के चुनाव परिणामों के बाद पहली कैबिनेट बैठक के दौरान व्यापारियों के लिए समान पेंशन योजना की घोषणा की गई है।2016 में गरीबों को मुफ्त रसोई गैस कनेक्शन प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना शुरू की गई थी। यह योजना 7 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को धुआं मुक्त रसोई प्रदान करने में एक बड़ा कदम साबित हुई है। इसकी अधिकांश लाभार्थी महिलाएं हैं।आजादी के बाद से 70 वर्षों के बाद भी 18,000 गाँव बिना जहां बिजली नहीं थी वहां बिजली पहुंचाई गई है।श्री मोदी का मानना है कि कोई भी भारतीय बेघर नहीं होना चाहिए और इस विजन को साकार करने के लिए 2014 से 2019 के बीच 1.25 करोड़ से अधिक घर बनाए गए है। 2022 तक प्रधानमंत्री के 'हाउसिंग फॉर ऑल' के सपने को पूरा करने के लिए घर के निर्माण की गति में तेजी आई है।कृषि एक ऐसा क्षेत्र है जो श्री नरेंद्र मोदी के बहुत करीब है। 2019 के अंतरिम बजट के दौरान सरकार ने किसानों के लिए पीएम किसान सम्मान निधि के रूप में एक मौद्रिक प्रोत्साहन योजना की घोषणा की। 24 फरवरी 2019 को योजना के शुरू होने के बाद लगभग 3 सप्ताह में नियमित रूप से किश्तों का भुगतान किया गया है। पीएम मोदी के दूसरे कार्यकाल की पहली कैबिनेट बैठक के दौरान इस योजना में 5 एकड़ की सीमा को हटाते हुए सभी किसानों को पीएम किसान का लाभ देने का फैसला किया गया। इसके साथ ही भारत सरकार प्रति वर्ष लगभग 87,000 करोड़ रुपये किसान कल्याण के लिए समर्पित करेगी।

No comments