Latest News

कानपुर कोरोना का डर:-पिता की मौत के बाद रो रहे थे मासूम

उत्तर प्रदेश के कानपुर में लॉकडाउन के दौरान कल्याणपुर पुलिस ने सोमवार को एक रिक्शा चालक की मौत के बाद अंतिम संस्कार करा कर मानवता की मिसाल पेश की। उसके चार बेसहारा बच्चों को सरकार की तरफ से मदद मिलने तक उनके रोटी कपड़े का भी इंतजाम किया। ये सब देख बच्चों के आंसू छलक उठे।


आमजा भारत कार्यालय संवाददाता:- कानपुर में कल्याणपुर थाना क्षेत्र के अंबेडकरपुरम सेक्टर 8 निवासी रिक्शा चालक की सोमवार को मौत हो गयी। चार साल पहले पत्नी की मौत के बाद चार मासूम बच्चों को वही पाल पोस रहा था।
पिता की मौत के बाद बेसहारा बच्चे शव से लिपट कर रोते रहे, लेकिन कोरोना के डर से कोई मदद के लिए आगे नहीं आया। जानकारी पाकर कल्याणपुर आवास विकास 3 चौकी इंचार्ज आनंद द्विवेदी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे।
सहकर्मियों के साथ मिलकर दरोगा ने अर्थी सजवाई और अंतिम संस्कार के लिए घाट ले गए। रिक्शा चालक की अंतिम यात्रा में शामिल खाकी की भीड़ को देखा तो वहां मौजूद हर शख्स ने सलाम ठोका।

इसके बाद हर पुलिसकर्मी ने अपने सामर्थ्य के अनुसार बच्चों को आर्थिक सहयोग दिया। सीओ कल्याणपुर अजय कुमार ने बताया कि बच्चों को तीन लाख रुपये की आर्थिक मदद के लिए प्रशासन को पत्र भेजा गया है। सीएम राहत कोष से सहायता राशि दिलवाने की प्रक्रिया की जा रही है।

1 comment: