Latest News

प्रवासी मजदूरों को बसों के जरिए लाया गया नरैनी

नरैनी, के0 एस0 दुबे । जिला प्रशासन ने पूर्वांचल के सैकड़ों प्रवासी मजदूरों को बसों द्वारा नरैनी भेजा गया। सभी मजदूर अहमदाबाद (गुजरात) से विशेष ट्रेन द्वारा बांदा रेलवे स्टेशन में उतारे गए हैं। कस्बा के राजकुमार इंटर कालेज, पार्वती महाविद्यालय तथा दीनदयाल आवासीय विद्यालयों को प्रवासी मजदूरों को कवारन्टीन रखने के लिए चिन्हित किया गया था। रविवार प्रातः 6 बजे दर्जनों रोडवेज बसों द्वारा लगभग 550 प्रवासी मजदूरों को उक्त तीनों विद्यालयों में पहुंचाया गया। जब जानकारी प्राप्त की गई तो चैंकाने वाला रहस्य सामने आया। नायब तहसीलदार अभिनव तिवारी ने बताया कि रविवार को कवारन्टीन केंद्रों में आये लगभग सभी मजदूर पूर्वांचल के मऊ, जौनपुर,
क्वारंटीन सेंटर में खड़े मजदूर 
देवरिया, बलिया तथा विहार के कुछ जिलों के रहने वाले हैं। ये सभी लोग गुजरात के अति संवेदनशील जिला अहमदाबाद से विशेष ट्रेन द्वारा रविवार प्रातः बांदा रेलवे स्टेशन में उतारे गये थे। समाजिक दूरी न होने की बात पर बताया गया कि ये लोग ड्यूटी में लगे गार्डों की बात नहीं मान रहे थे। बताया कि इनका थर्मल टेस्ट कराने के बाद इन्हें भोजन कराया जाएगा। उसके बाद जब कोई वाहन यहां भेजे जायेंगे तब इन्हें इनके संबंधित स्थानों तक भेजने की व्यवस्था की जाएगी। 

60 मजदूर परिवारों को बांटी गई राशन किट 
नरैनी। परदेश से लौटे 60 मजदूर परिवारों को शासन से प्राप्त राशन किट बांटी गई है।नायब तहसीलदार अभिनव तिवारी ने बताया कि शासन से पच्चीस किलो ग्राम वजन की राशन किट प्राप्त हुई हैं। परदेश से लौटे 60 मजदूरों को बाटी गई है। कानूनगो गोविंद दास सहित कई लेखपाल मौजूद रहे। 

No comments