Latest News

एक लाख 34 हजार 701 श्रमिकों को लेकर अब तक 100 ट्रेन पहुँची मध्यप्रदेश

कोरोना संक्रमण के कारण विभिन्न प्रदेशों में फँसे श्रमिकों को लेकर अब तक 100 ट्रेन मध्यप्रदेश आ चुकी हैं। इन ट्रेनों से एक लाख 34 हजार 701 श्रमिक लाये जा चुके हैं।

इन 100 ट्रेनों में मुख्य रूप से रीवा 30, मेघनगर 13, ग्वालियर 9, जबलपुर 6 और छतरपुर 6 ट्रेन आयी हैं।

भोपाल, अंकित जैन -  अपर मुख्य सचिव एवं स्टेट कंट्रोल रूम प्रभारी श्री आई.सी.पी. केशरी ने जानकारी दी है कि 2 मई को नासिक से भोपाल 347 श्रमिक, 6 मई को हैदराबाद से भोपाल 1030, हैदराबाद से कटनी 997, पनवेल से रीवा 1140, 7 मई को पनवेल से भोपाल 1200, 8 मई को लुधियाना से ग्वालियर 1365, राजकोट से रतलाम 1233, अकोला से जबलपुर 1354, अहमदनगर से विदिशा 1256, कोजिकोड से विदिशा 1135, ओरंगाबाद से ओबेदुल्लागंज 1223, रिवाड़ी से सागर 1239, दिल्ली से छतरपुर 1032, हैदराबाद से जबलपुर 1185, पुणे से रीवा, 1093, हैदराबाद से रीवा 1250, 9 मई को राजकोट से रतलाम 1299, पोरबंदर से मेघनगर 1180, जूनागढ़ से मेघनगर 1250, हैदराबाद से विदिशा 1160, अकोला से खण्डवा 1347, औरंगाबाद से जबलपुर 1329, गोवा से ग्वालियर 1200, रिवाड़ी से सागर 1280, 10 मई को पोरबंदर से मेघनगर 1261, रिवाड़ी से छतरपुर 1347, जूनागढ़ से मेघनगर 1243, मोरवी से रतलाम 1200, पनवेल से रीवा 1143, औरंगाबाद से खण्डवा 1170, 11 मई को पोरबंदर से मेघनगर 1319, भिवाणी से छतरपुर 1228, मौरवी से भोपाल 1416, मौरवी से शाजापुर 1434, जूनागढ़ से मेघनगर 1597, राजकोट से रतलाम 1230, पुणे से ग्वालियर 1307, बेंगलुरू से ग्वालियर 1070, कसरगोड से ग्वालियर 1116, पालघर से मेघनगर 1150 और थाने से रीवा 1252 श्रमिक लाये जा चुके हैं।

इसी तरह 12 मई को मेहसाणा से ग्वालियर 1200 श्रमिक, गांधीधाम से मेघनगर 1240, कोल्हापुर से जबलपुर 1209, पुणे से जबलपुर 1408, राजकोट से सतना 1560, जूनागढ़ से मेघनगर 1598, फरीदाबाद से दमोह 1417, जालंधर से कटनी 1091, 13 मई को भुज से रतलाम 1233, नारनौल से छतरपुर 1434, पनवेल से रीवा 1600, सतारा से रीवा 1440, राजकोट से मेघनगर 1200, भरूच से रीवा 1546, गोंडल से मेघनगर 1519, रिवाड़ी से सागर 1590, गुड़गांव से टीकमगढ़ 1759, 14 मई को बापी से रीवा 1600, राजकोट से रतलाम 1257, पनवेल से रीवा 1604, नासिक से रीवा 1600, पुणे से रीवा 1259, नारनौल से मेघनगर 1601, रोहतक से टीकमगढ़ 1649, रिवाड़ी से छतरपुर 1650, बेंगलुरू से सतना 1440, इंदौर से रीवा 1480, पलवल से टीकमगढ़ 1816, 15 मई को पुणे से रीवा 1300, पुणे से रीवा 1500, सांगली से रीवा 1605, पुणे से रीवा 1233, राजकोट से रतलाम 1266, सुरेन्द्रनगर से ग्वालियर 1614, गुड़गांव से छतरपुर 1603, बेंगलूरू से ग्वालियर 1537, 16 मई को भोपाल से रीवा 1404, ओंगोले से रीवा 1100, सरहिन्द से कटनी 1145, पुणे से रीवा 1690, पुणे से रीवा 1530, मडगांव से रीवा 1464, पुणे से जबलपुर 1350, हैदराबाद से रीवा 767, 17 मई को पालनपुर से भिण्ड 1218, बापी से रीवा 1643, मुंबई से सतना 1443, चैन्नई से रीवा 1445, इंदौर से रीवा 1480, 18 मई को सोलापुर से ग्वालियर 1314, पटियाला से रीवा 981 और 19 मई को विजयवाड़ा से उज्जैन 1153, गांधीधाम से रीवा 1600, अलवर से छतरपुर 1500, जयपुर से सीहोर 1682, सांगली से ग्वालियर 1092 अमृतसर से कटनी 1278, बोरिवली से रीवा 1176, भिवाणी से छतरपुर 1461 एवं मडगांव से रीवा 1520 श्रमिक ट्रेनों से लाये जा चुके हैं।

No comments