Latest News

‘टेली मेडिसिन सेंटर में सहयोग करें प्राईवेट डाक्टर’

डीएम ने की बैठक, सीएमओ को कमियां दूर करने के दिए निर्देश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में प्राइवेट चिकित्सकों के साथ आवश्यक बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में संपन्न हुई। उन्होंने चिकित्सकों से कहा कि जो क्लीनिक का संचालन कराया जा रहा है उसमें स्टाफ को प्रशिक्षण अवश्य दिला दें। मरीजों का जो प्रतिदिन इलाज कर रहे हैं उन्हें मास्क अवश्य उपलब्ध कराएं तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सैनिटाइजेशन का भी कार्य कराया जाए। टेलीमेडिसिन पर भी रजिस्ट्रेशन करा लें। ताकि मरीजों का इलाज कराया जा सके। यह बहुत ही प्रसन्नता की बात है कि  जनपद पर यह योजना की अनूठी पहल लागू की गई है। इसमें सहयोग करें। ताकि जनता की सेवा हो सके। खाली समय पर जिला अस्पताल पर टेली मेडिसन सेंटर में सहयोग प्रदान करें। इसके
बैठक में निर्देश देते डीएम।
अलावा क्लीनिक सेंटर से भी मरीजों का इलाज लैपटॉप के माध्यम से कर सकते हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी सहयोग देंगे। चिकित्सालय पर वार्ड ब्वॉय, आया आदि को सभी सुविधाएं अवश्य दें। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार से कहा कि जो कमियां हैं उन्हें दूर करें। जिलाधिकारी ने चिकित्सकों से यह भी कहा कि इलाज के दौरान अगर कोई मारीज संपर्क में आए तो उसे तत्काल मुख्य चिकित्सा अधिकारी से वार्ता कर क्वॉरेंटाइन पर भेजें। लोग आरोग्य सेतु ऐप को डाउनलोड अनिवार्य रूप से करें। पूरे स्टाफ सहित और लोगों को भी अधिक से अधिक इस ऐप को डाउनलोड कराएं। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस कि खिलाफ लड़ कर आगे बढ़ेंगे। इससे डरने की जरूरत नहीं है। पीपी किट का प्रयोग करें। जनता लाक डाउन का पालन कर रही है। कहीं पर कोई समस्या नहीं है। बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार, प्राइवेट चिकित्सालय के डाॅ महेंद्र कुमार, डॉ सुधीर अग्रवाल, डॉ प्रबोद अग्रवाल, डॉ रचित पाण्डेय, डॉ एसपी त्रिपाठी सहित आदि चिकित्सक मौजूद रहे।

No comments