Latest News

एसपी ने असनी-डलमऊ बार्डर का किया निरीक्षण

मेडिकल इमरजेन्सी व जरूरी कारण बताने वालों को ही जनपद में  दें प्रवेश
 
फतेहपुर, शमशाद खान । पड़ोसी जनपद रायबरेली में एक साथ 33 कोरोना मरीज मिलने से जनपद में भी हड़कम्प मचा हुआ है। मंगलवार को पुलिस अधीक्षक ने बार्डर का निरीक्षण कर ड्यूटी में तैनात पुलिस कर्मियों को हिदायत दी कि मेडिकल इमरजेन्सी व जरूरी कारण बताने वालों को ही जनपद में प्रवेश दिया जाये। जो व्यक्ति जबरन जनपद में प्रवेश करे तो उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जाये। 
असनी-डलमऊ बार्डर का निरीक्षण करते एसपी प्रशांत वर्मा।
बताते चलें कि मंगलवार को पड़ोसी जनपद रायबरेली में  एक साथ 33 कोरोना मरीज मिलने से पूरे क्षेत्र में हड़कम्प मचा हुआ है। इस जनपद से जुड़े अन्य जनपदों की सभी सीमाओं को सील करने का काम किया गया है। रायबरेली से जुड़ी सीमा असनी-डलमऊ बार्डर को एसपी प्रशांत वर्मा के निर्देशन में पूरी तरह सील कर दिया गया। एसपी ने अधीनस्थों को सख्त हिदायत दी है कि लखनऊ-रायबरेली मार्ग को पूरी तरह बंद रखा जाये। दोपहर लगभग दो बजे पुलिस अधीक्षक प्रशांत वर्मा अधीनस्थों संग असनी-डलमऊ बार्डर पहुंचे और निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियों को निर्देशित किया कि उस पार से आने वाले वाहनों को सख्ती के साथ चेक करंे जरूरी कागजात अवश्य देखें और मेडिकल इमरजेन्सी वालों को ही जनपद में प्रवेश दिया जाये। उनका कहना रहा कि अब तक अपने जनपद में एक भी कोरोना मरीज प्रकाश में नहीं आया है। जबकि अन्य पड़ोसी जनपदों कानपुर, कौशाम्बी, बांदा में पहले ही कोरोना मरीज पाये गये थे। अब पड़ोसी जनपद रायबरेली में भी कोरोना मरीज मिल गये हैं। इसलिए सतर्कता बेहद जरूरी है। इस मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार भी मौजूद रहे। 

No comments