Latest News

व्यापारियों की खस्ताहाल स्थिति का प्रधानमंत्री को भेजा ज्ञापन

ग्यारह सूत्रीय मांगों को पूरा किये जाने की उठायी मांग 
  
फतेहपुर, शमशाद खान । कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा किये गये लाकडाउन में देश एवं प्रदेश की दुकाने बंद होने से व्यापार की स्थिति अत्यंत खराब एवं दयनीय हो गयी है। व्यापारियों की खस्ताहाल स्थिति को लेकर उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल के पदाधिकारियों ने प्रधानमंत्री को एक ज्ञापन भेजकर ग्यारह सूत्रीय मांगों को पूरा किये जाने की आवाज उठायी है। 
एएसडीएम को ज्ञापन देने जाते व्यापारी।
उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल के नगर अध्यक्ष प्रमोद कुमार गुप्ता की अगुवई में पदाधिकारियों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रधानमंत्री को सम्बोधित ग्यारह सूत्रीय ज्ञापन अपर उपजिलाधिकारी को सौंपकर सभी मांगों को पूरा किये जाने की मांग उठायी। व्यापारियों ने कहना रहा कि बंदी होने से व्यापार की स्थिति अत्यंत खराब और दयनीय हो गयी है। बहुत सी दुकानों की पूंजी भी टूट गयी है। बिक्री न होने से देनदारी पर बुरा असर पड़ा है। जबकि देश और प्रदेश के व्यापारियों ने सरकार को अपना भरपूर सहयोग दिया है। प्रधानमंत्री से मांग की गयी कि जीएसटी रिटर्न देर से जमा करने पर पेनाल्टी, ब्याज व जुर्माना माफ किया जाये, लाकडाउन के समय दुकाने बंद होने से बिजली का प्रयोग हुआ ही नहीं ऐसे में 15 मार्च से 30 अप्रैल तक का कामर्शियल बिजली का बिल पूरी तरह माफ किया जाये, लाकडाउन के समय का बैंक लोन पर लगने वाला ब्याज पूरी तरह समाप्त किया जाये, प्रधानमंत्री सांसद, विधायकों ने 35 प्रतिशत कम वेतन लेने की घोषणा की है दुकान के कर्मचारियों को केवल 50 प्रतिशत वेतन देने की घोषणा की जाये, नगर पालिका, नगर पंचायत एवं जिला पंचायत की दुकानों का लाकडाउन के दो माह का किराया माफ किया जाये, अपंजीकृत लाइसेंसी व्यापारियों को भी आर्थिक मदद दी जाये, जनपद में मामूली गलतियों पर व्यापारियों को दंडित न किया जाये। इसके अलावा अन्य मांगे शामिल रहीं। इस मौके पर दीपक साहू, सूर्यकांत सत्यम, मिन्टू सोनी, गौरव गुप्ता, प्रमोद कुमार गुप्ता आदि मौजूद रहे। 

No comments