Latest News

बाबूपुरवा में साथियों की पिटाई से नाराज सफाई कर्मियों ने काम बंद कर थाना घेरा, हंगामा

कोरोना योद्धाओं के साथ अभद्रता की घटनाएं रुक नहीं रही हैं। पंजाब में जहां सफाई कर्मचारियों का फूल मालाओं से स्वागत किया जा रहा है, वहीं कानपुर के बाबूपुरवा कालोनी में गुरुवार को दो लोगों ने सफाई से असंतुष्ट होकर सफाई नायक व कर्मचारियों के साथ मारपीट कर दी। इससे नाराज नगर निगम जोन तीन के सभी सफाई कर्मचारियों ने काम बंद कर दिया और कार्रवाई की मांग को लेकर बाबूपुरवा थाने का घेराव करके हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी हरकत में आ गए और तत्काल दोनों आरोपितों को हिरासत में लिया गया।
आमजा भारत सवांददाता:- सफाई नायक छिद्दू प्रसाद ने बताया कि आइजीआरएस पर बाबूपुरवा कालोनी की एक गली में गंदगी की शिकायत पहुंची थी। सफाई के लिए उन्होंने दो कर्मचारी लगाए थे। लोग कम न पड़ जाएं, इसलिए वह एक और कर्मचारी को लेकर पहुंचे। आरोप है कि कालोनी निवासी संदीप तिवारी व अनूप सिंह ने उन पर हमला बोल दिया। उनके अलावा कर्मचारियों चंद्रप्रकाश व जगदीश के साथ मारपीट की, जिससे तीनों को घायल हो गए। भीड़ बढ़ी तो वे जान बचाकर भाग खड़े हुए और अन्य साथियों को जानकारी दी। इसके बाद जोन तीन के सफाई कर्मचारियों ने काम बंद कर दिया और सभी बाबूपुरवा थाने पहुंच गए। हंगामा करते हुए सफाई कर्मचारियों ने मामले में रिपोर्ट दर्ज करने और सफाई कर्मियों की सुरक्षा की मांग रखी।

पुलिस को जानकारी मिली ताे तत्काल आरोपितों को उनके घर से पकड़कर थाने लाया गया। सूचना पर नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी, नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर अजय शंखवार बाबूपुरवा थाने पहुंचे और कार्रवाई के लिए कहा। इसके बाद सफाई नायक व दो सफाई कर्मचारियों को मेडिकल के लिए भेजा गया। इस मामले में अभी पीडि़तों की ओर से कोई तहरीर नहीं दी गई है, जिसकी वजह से एफआइआर दर्ज नहीं हुई है। वहीं सफाई कर्मचारियों की मांग है कि इस मामले में रिपोर्ट दर्ज उनके सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए जाएं, नहीं तो वह काम पर नहीं लौटेंगे।

No comments