Latest News

कानपुर कोरोना कहर : छोटी मंडियों से बिकेंगी सब्जियां, सिर्फ ठेले वाले ही सकेंगे खरीद सब्जियां

सब्जियों की कमी दूर को करने के लिए प्रशासन ने फुटकर मंडियों को सब्जी बेचने की अनुमति दे दी है, लेकिन इन मंडियों में आम जनता खरीदारी नहीं कर सकेगी। यहां सिर्फ ठेला, ई-रिक्शा पर गलियों में सब्जी बेचने वाले ही खरीदारी कर सकेंगे। यहां शारीरिक दूरी का पालन पुलिस सख्ती से कराएगी।
फुटकर मंडियों में आसपास के किसान भी लेकर आते सब्जी
आमजा भारत कार्यालय संवाददाता:- शहर में फुटकर मंडियां ठेले वालों को तो सब्जी बेचते ही थे, सीधे ग्राहक को भी सब्जी बेचते थे। इन मंडियों में आसपास के गांवों से किसान भी अपनी सब्जी लेकर पहुंचते थे। इन मंडियों में लॉकडाउन के दौरान भी भारी भीड़ के पहुंचने की वजह से इन्हें बंद कर दिया गया था। ठेले पर सब्जी बेचने वाले चकरपुर की थोक सब्जी मंडी में जाकर सब्जी नहीं ला सकते। इन स्थितियों को देखते हुए प्रशासन ने शहर के तमाम मोहल्लों में मौजूद फुटकर मंडियों में दुकानदारों को सब्जी लाने की अनुमति दी है, लेकिन यहां ग्राहक सीधे सामान नहीं खरीदेंगे। सिर्फ ठेले पर सब्जी बेचने वाले ही यहां से माल खरीदेंगे। शहर में 13 ब्लाक गोङ्क्षवद नगर, रामादेवी, कुली बाजार, विजय नगर, नौबस्ता, नवाबगंज, कल्याणपुर, रावतपुर, मैनावती मार्ग जैसी तमाम फुटकर मंडियां हैं। जिलाधिकारी डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी के मुताबिक शहर के अंदर मौजूद फुटकर सब्जी मंडी को चालू किया जाएगा, लेकिन ये लोग चकरपुर से सब्जी लाकर ठेले वालों को ही बेचेंगे। यहां किसान भी सब्जी लाकर बेच सकेंगे।

कर्मचारी कल्याण निगम की गाड़ी से भी बिक्री
कर्मचारी कल्याण निगम की गाडिय़ों से भी खाद्य, घरेलू सामान के अलावा सब्जियां भी बेची जाएंगी। ये गाडिय़ां सरकारी कालोनियों में भी जाएंगी और मोहल्लों में भी घूमेंगी।

अंडा बिकेगा पर आमलेट नहीं
डीएम डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी ने बताया कि अंडा की होम डिलीवरी होगी। कारोबारी गलियों में घूमकर अंडा बेच सकते हैं, लेकिन वे आमलेट नहीं बनाकर नहीं बेचेंगे। 

No comments