Latest News

सोशल डिस्टेंसिंग: पब्लिक है कि मानती नहीं

बांदा, के0 एस0 दुबे -  कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए लाक डाउन का पालन करने के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना भी जरूरी है। लेकिन पब्लिक है कि मानती नहीं। गुरुवार को सुबह कालूकुआं स्थित एक बैंक के सामने महिलाओं की भीड़ रुपया निकालने के लिए दिखी तो पुलिस कर्मी वहां पर पहुंचा और महिलाओं को तिर-बितर कर दूर-दूर
खड़ा कर दिया। पुलिस कर्मी वहां से वापस गया नहीं कि भीड़ फिर जस की तस हो गई। दूसरी तस्वीर तिंदवारी रोड स्थित मंडी समिति की है। गुरुवार की सुबह सब्जी बिक्री करने आए लोगों ने खुद सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया। फिर खरीददार जब मंडी पहुंच गए तो सोशल डिस्टेसिंग की धज्जियां ही उड़ गईं। पुलिस के नाम पर दो सिपाही वहां मौजूद थे। उन्होंने कहा कि पब्लिक है कि मानती नहीं। 

No comments