Latest News

किदवई नगर में राशन की कालाबाजारी पर कोटेदार पर मुकदमा

सरकार के आदेश पर गरीबों को राशन वितरण का आदेश ताक पर रखकर कोटेदार कालाबाजारी कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला किदवई नगर में सामने आया है। राशन की कालाबाजारी पर आपूíत विभाग ने कोटेदार पर मुकदमा दर्ज कराया है। कोटेदार की बंद दुकान को सील कर दिया गया था और जांच में गेहूं चावल का स्टॉक नहीं मिला।
आमजा भारत सवांददाता:- किदवई नगर स्थित सहकारी समिति सचिव सत्येंद्रनाथ पांडेय की राशन दुकान पर एसीएम व आपूíत विभाग के अफसरों ने शुक्रवार को छापा मारा तो दुकान बंद मिली। इस पर दुकान सील कर कोटेदार को समस्त दस्तावेजों के साथ आपूíत कार्यालय बुलाया गया। कोटेदार नहीं पहुंचे तो शनिवार को अफसरों ने सील तोड़कर दुकान की जांच की। ऑनलाइन वितरण रिकार्ड के मुताबिक दुकान पर 16.84 क्विंटल गेहूं और 11.76 क्विंटल चावल होना चाहिए लेकिन अफसरों को यहां राशन का एक दाना नहीं मिला।

जिलापूíत अधिकारी अखिलेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि खाद्यान्न न मिलने से स्पष्ट है कि राशन की कालाबाजारी की गई है क्योंकि कोटेदार ने कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दिया है। कोटेदार के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। उन्होंने बताया कि कोतवाली के कोटेदार मुख्तार अहमद के खिलाफ कालाबाजारी करने की रिपोर्ट शुक्रवार को दर्ज कराई गई थी।

अधिक मूल्य पर खाद्य सामग्री बेचने पर मुकदमा
ज्यादा दाम पर खाद्य सामग्री बेचने पर रेलबाजार पुलिस ने दुकानदार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। फेथफुलगंज चौकी प्रभारी जौदान सिंह ने बताया कि शुक्रवार शाम गश्त के दौरान सूचना मिली कि फेथफुलगंज तिराहे के पास किराना दुकान में महंगे दाम पर खाद्य सामग्री बेची जा रही है। मौके पर पहुंचे तो करीब 10 ग्राहक मिले। दुकानदार सुरेश चंद्र अपने घर के अंदर भाग गए। लोगों ने बताया कि सुरेश 45 रुपये किलो के हिसाब से आटा, 145 रुपये किलो के हिसाब से अरहर की दाल व 60 रुपये किलो के हिसाब से चीनी बेच रहे हैं। दुकानदार के खिलाफ धोखाधड़ी, धारा 144 के उल्लंघन और संक्रमण फैलाने की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया।

No comments