Latest News

कोरोना के खौफ पर भारी पड़ी आस्था

बांदा, कृपाशंकर दुबे -  नवरात्र के प्रथम दिन से ही व्रत रखने वाले श्रद्धालुओं ने घरों में रहकर जगत जननी मां जगदंबे की पूजा-अर्चना की। लेकिन बुधवार को अष्टमी के दिन अठवाइयां चढ़ाने के लिए महिला श्रद्धालु अपने घरों से बाहर निकल पड़े। शहर के बाबूलाल चैराहा पर स्थित काली देवी मंदिर के बाहर दर्जनों महिला श्रद्धालुओं ने पूजा-अर्चना की और अठवाइयां
चढ़ाई। मालुम हो कि मातारानी को अठवाइयां चढ़ाए जाने के बाद इसी आठवांई से व्रत का पारण किया जाता है। अष्टमी पर अठवाइयां चढ़ाने के लिए महिला श्रद्धालु कुछ देर के लिए
घरों से बाहर निकलीं और पूजा-अर्चना की। मंदिर के पास खुली एक दुकान पर नारियल और पूजन सामग्री भी खरीदी गई। कुल मिलाकर कहने का तात्पर्य यह कि कोरोना के खौफ पर आस्था भारी पड़ गई। 

No comments