Latest News

सब्जी ढोने वाले वाहनों से पुलिस बल पूर्वक कर रही वसूली

कोरोना योद्धा के नाम से पहचानी जा रही खाकी वर्दी का यह भी एक रूप 

अतर्रा, के0 एस0 दुबे । कोरोना योद्धा के नाम से इन दिनों खादी वर्दीधारियों को संबोधित किया जा रहा है। सतर्कता बरतने वाली खाकी का एक दूसरा वसूलीबाजी का रूप सामने आया है। सब्जी वाहनों में लादकर लाने वालों से न सिर्फ बल पूर्वक वसूली की जा रही है बल्कि मंडी की ओर से जारी पास को फाड़कर फेंक दिया जा रहा है। बबेरू क्षेत्राधिकारी ने मामले की जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है। दूसरी ओर करतल पुलिस चैकी ने एसडीएम का पास फेंक दिया और वसूली करते हुए दोबारा न आने की हिदायत वाहन चालक को दी। 
ज्ञात रहे चित्रकूट धाम मंडलायुक्त के निर्देश पर जनपद बाहर से आ रही सब्जियों को लाकडाउन के चलते रोका न जाए, इस आदेश को धता बताते हुए पुलिस पूरी तरह से बेलगाम हो गई है। जिससे वाहन चालकों को दिए गए पास को दरकिनार करते हुए प्रताड़ित कर पुलिस के द्वारा वसूली की जा रही है। कस्बे निवासी ड्राइवर सुरेश पिकअप गाड़ी से आलू फतेहपुर से लेकर
अतर्रा आते समय बबेरू कस्बे पर चैराहे में तैनात पिकअप ड्यूटी पुलिस कर्मियों ने सुबह 4 बजे गाड़ी रुकवा कर मंडी सचिव अतर्रा का पास फाड़ कर फेंक दिया और 500 वसूलने के बाद जाने दिया। ड्राइवर ने जानकारी दी कि रात में मारने के साथ गाड़ी बंद करने की धमकी दे रहे थे और पैसे दे दिया तो जाने दिया। जिस पर क्षेत्राधिकारी बबेरू राजीव प्रताप सिंह ने कहा कि ड्राइवर की तहरीर मिलते ही पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई होगी। सीओ ने अपना सीयूजी नंबर पर हर समय बात करने के लिए उपलब्ध बताया और कहा कि सर्किल क्षेत्र में किसी भी प्रकार की सब्जी विक्रेताओं से वसूली की शिकायत होने पर कड़ी कार्रवाई होगी। 
दूसरी घटना इसी प्रकार मध्य प्रदेश सागर से प्याज लेकर आ रही पिकअप गाड़ी ड्राइवर पूरन को करतल पुलिस चैकी पुलिसकर्मियों ने रोका, अतर्रा उप जिलाधिकारी का पास ना मानते हुए प्रताड़ित किया तथा 500 वसूले, जिससे दुकानदारों सहित वाहन चालकों मे पुलिस के प्रति आक्रोश है, व्यापार मंडल अध्यक्ष उमाशंकर गुप्ता ने कहा जनपद पूरी तरह से लाक डाउन का पालन हर पहलुओं पर किया जा रहा है। पास जारी किए गए हैं, जिससे कस्बे आसपास के क्षेत्रों में सब्जी की किल्लत ना हो सके। पुलिस बेलगाम हो गई है, दूसरे जनपदों से वाहन पास लेकर आ रहे हैं। लेकिन जनपद की पुलिस जनपद का ही पास मानने को तैयार नहीं है। अगर सुधार ना हुआ, तो मुख्यमंत्री से शिकायत दर्ज कराई जाएगी। 

No comments