Latest News

तय रेट पर उपलब्ध कराएं सामग्री: डीएम

क्वारंटीन लोगों को छोड़ने पर एएनएम के खिलाफ कार्यवाही के दिए निर्देश
क्वारंटीन सेंटर में रेण्डम जांच व कार्यालयों को कराएं सेनिटाइज 
शुरू हो आधारकार्ड बनाने का कार्य 
गौशाला, पेयजल, गेंहू क्रय केन्द्रों पर रहे विशेष ध्यान

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में कोरोना वायरस से संबंधित बैठक संपन्न हुई। जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारियों से कहा कि आगामी रमजान के समय जो सामग्री की आवश्यकता होती है उसे होम डिलीवरी के माध्यम से नगर मैं अधिशासी अधिकारी तथा गांव में डोर टू डोर एनाउंस करते हुए उपलब्ध कराएंगे। सामग्री का रेट भी तय रहे। उन्होंने उप जिलाधिकारियों से यह भी कहा कि क्षेत्र में पीस कमेटी की बैठक कर लें। उन्हें यह बताएं कि मस्जिदों पर नमाज पढ़ने की जरूरत नहीं है। वह अपने घरों पर ही इबादत करें। सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे तथा पेयजल विद्युत व साफ-सफाई आदि व्यवस्थाएं दुरुस्त रखें। उन्होंने टेलीमेडिसिन स्वास्थ्य सेवाओं पर नेटवर्क की समस्या पर कहा कि एसडीओ टेलीफोन से संपर्क कर व्यवस्था सुनिश्चित कराएं। अधिक से अधिक लोगों को इस योजना का लाभ दें। समय से चिकित्सक मौजूद रहे। कुछ चिकित्सकों द्वारा अच्छा कार्य किया जा रहा है, लेकिन कुछ चिकित्सक रुचि नहीं लेते हैं। उन्हें मुख्य चिकित्सा अधीक्षक निर्देश जारी कर दें ताकि अधिक से अधिक गांव के लोगों को स्वास्थ्य लाभ मिल सके। उन्होंने आरोग्य सेतु एप पर कहा कि प्रचार-प्रसार ऑडियो वीडियो बनाकर किया जाए। विभागों को लक्ष्य दिया जाए। जिला पूर्ति अधिकारी से कहा कि जिनके नए राशन कार्ड बने उप जिलाधिकारी से जांच अवश्य कराएं। जिनके नाम कटे हैं और जो छूटे हैं उनका शत-प्रतिशत राशन कार्ड बना दिया जाए। आधार कार्ड बनाने का कार्य शुरू हो गया है इस पर प्रगति लाई जाए। अग्रणी जिला प्रबंधक इलाहाबाद बैंक को निर्देश दिए कि मारकुंडी बैंक में भी आधार सेंटर खोला जाए। इसके लिए शासन को पत्र भेजें। सभी बैंकों पर आधार कार्ड बनाए जाने की प्रक्रिया शुरू हो। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ विनोद कुमार से कहा कि जो लोग होम क्वॉरेंटाइन कराए गए हैं उनका रेंडम
बैठक में निर्देश देते डीएम।
चेकिंग अवश्य कराएं तथा ज्यादा से ज्यादा शहर व गांवों तथा कार्यालयों पर सैनिटाइज का कार्य बढ़ाया जाए। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ आरके गुप्ता से कहा कि जिला अस्पताल में साफ सफाई का विशेष ध्यान दें तथा सर्दी, जुखाम, बुखार, खांसी के मरीज जो आ रहे हैं उनका कम से कम 10 सैंपल जांच के लिए अवश्य भेजें। जिलाधिकारी ने डिप्टी आरएमओ से कहा कि गेहूं क्रय केंद्र का संचालन सही तरीके से किया जाए तथा जो दाल की कमी आ रही है उसको बाहर से आवागमन की व्यवस्था कराएं। उसमें अपर पुलिस अधीक्षक से कहा कि बॉर्डर पर पुलिस का सहयोग अवश्य रहे। ताकि आवश्यक वस्तुओं की आवाजाही बनी रहे। कहा कि जिन वस्तुओं पर छूट दी गई है अगर वह वस्तुएं जनपद पर कम है तो ऑनलाइन पास का आवेदन कर बाहर से मंगाने की व्यवस्था करें। उन्होंने गौशालाओं के संचालन पर कहा कि सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित रहे। उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी से कहा कि रौली कल्याणपुर के ग्राम प्रधान द्वारा गौशाला से गायों को कैसे छोड़ा गया उक्त के खिलाफ कार्यवाही कर अवगत कराएं। उन्होंने कहा कि सड़कों पर टैग की हुई गाय नहीं दिखाई पड़ना चाहिए। गौशालाओं पर मनरेगा से मजदूरों की व्यवस्था कराकर चराने की व्यवस्था करें जो निजी किसान पशुओं को छोड़ रहे हैं उनके खिलाफ कार्यवाही कराएं तथा गांवों पर मुनादी कराकर प्रचार-प्रसार भी कराया जाए और किसानों से संपर्क कर गौशालाओं पर अधिक से अधिक भूसा दान करें। उन्होंने कहा कि पेयजल की जो समस्याएं प्राप्त हो रही है उनका तत्काल निस्तारण कराएं। अधिशासी अभियंता जल संस्थान से कहा कि मिशन रोड तथा कोतवाली के पीछे द्वारिकापुरी में सप्लाई नहीं हो पा रही है। उस पर तत्काल कार्यवाही कराएं। उन्होंने उप जिलाधिकारी तथा अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद कर्वी को निर्देश दिए कि पेयजल संबंधी कार्यों की जांच कर आख्या उपलब्ध कराएं। उन्होंने अधिशासी अभियंता जल निगम से कहा कि तीन दिन के अंदर चितरा गोकुलपुर पेयजल योजना का संचालन कराएं। अग्रणी जिला प्रबंधक इलाहाबाद बैंक तथा पोस्ट ऑफिस के अधिकारियों से कहा कि माइक्रो एटीएम की व्यवस्था से जो गांव-गांव धनराशि का वितरण कराया जा रहा है उसमें अधिक से अधिक प्रचार प्रसार कराकर प्रगति बढ़ाएं। उन्होंने खण्ड विकास अधिकारियों से कहा कि जिस क्षेत्र के गांव में निरीक्षण करने जाए तो उस क्षेत्र के गेहूं क्रय केंद्रों का निरीक्षण अवश्य किया जाए। डिप्टी आरएमओ से कहा कि चेक लिस्ट भी उपलब्ध कराएं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि रैपुरा की एएनएम के खिलाफ कार्यवाही कराएं, क्योंकि उसके द्वारा क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों को कैसे छोड़ दिया गया था। स्थिति से अवगत कराएं। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक बलवंत चैधरी, उप जिलाधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

No comments