Latest News

लॉक डाउन जागरूकता: बाहरी लोगों के गांव में आने पर लगाई रोक

बिजनौर, (संजय सक्सेना) कोरोना वायरस से संक्रमित 3 मरीजों के मिलने से नजीबाबाद क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में भय का माहौल व्याप्त हो गया है।  ग्रामीण अब अपने अपने गांव एवं क्षेत्र की सुरक्षा के प्रति गंभीर नजर आ रहे हैं। 

समीपवर्ती ग्राम इस्माइलपुर में ग्रामीणों ने स्वयं लॉक डाउन एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अपने गांव के सभी मार्गों को बाहरी क्षेत्र से आने वाले लोगों के लिए बंद कर दिया है। गांव के बाहर बैरिकेडिंग लगाकर उस पर लिखकर लगाया है कि गांव के नागरिकों की कोरोनावायरस से रक्षा,  सुरक्षा हेतु यह कदम उठाया गया है। बाहर से आने वाले किसी भी व्यक्ति को गांव में आने की अनुमति नहीं है, यदि कोई आवश्यक कार्य किसी बाहरी व्यक्ति को किसी गांववासी से है तो वह फोन पर संपर्क करके अपनी समस्या का निवारण करें। अकारण गांव में
घूम रहे समीपवर्ती गांव के लोगों के लिए गांव के रास्ते बंद कर दिए गए हैं। आज प्रातः ग्राम इस्माइलपुर में ग्राम वासियों ने स्वयं मिलकर गांव के सभी रास्तों पर बैरिकेडिंग लगाई। इस कार्य को करने में मुख्य रूप से दीपक तोमर एडवोकेट, संजय तोमर, शिवम बालियान, रुचिर कुमार, प्रियांक कुमार, सुनील कुमार, ब्रजवीर सिंह, अनुराग सिंह आदि शामिल रहे। दीपक कुमार तोमर ने क्षेत्र एवं ग्राम वासियों से लॉक डाउन का पूर्व पालन करने का आह्वान करते हुए कहा कि कोरोना वायरस का इलाज सोशल डिस्टेंसिंग ही है, लॉक डाउन सरकार का एक सराहनीय कदम है। अतः सभी इसका पालन करें। वरिष्ठ भाजपा नेता चौधरी ईशम सिंह ने ग्रामीणों के इस कदम का स्वागत किया। उन्होंने ग्राम वासियों से आपसी एकता सामंजस्य रखते हुए प्रधानमंत्री के निवेदन एवं प्रशासन द्वारा समय-समय पर दिए जा रहे निर्देशों का पालन करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने का आह्वान किया। 

No comments