Latest News

निराश्रितों की उपलब्ध कराएं सूची: डीएम

गौवंश छोड़ने पर  प्रधान, सचिव के खिलाफ कार्यवाही
कोरोना रोकथाम संबंधी बैठक में दिए निर्देश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय तथा पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल की उपस्थिति में कोरोना वायरस के रोकथाम से संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि कंट्रोल रूम में जो समस्याएं भोजन आदि की प्राप्त हो रही हैं उनका निस्तारण तत्काल कराएं। उन्होंने अधिशासी अधिकारियों से कहा कि वार्डवार कर्मचारियों की ड्यूटी लगाकर बंटवाये तथा मोहल्लों की सूची भी बनाई जाए। उप जिलाधिकारियों से कहा कि सभी गांव में निराश्रित तथा असहायों की सूची बनाकर उपलब्ध कराएं। जनपद में होम डिलीवरी लगातार जारी रहे किसी भी आवश्यक वस्तुओं की कमी नहीं होना चाहिए। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से कहा कि सभी चिकित्सालय पर सभी व्यवस्थाएं रहे। कहीं पर कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। जिन मरीजों के जांच के लिए सैंपल भेजे जा रहे हैं उसमें यह देख ले कि किस तरह की रिपोर्ट प्राप्त हो रही है तथा टेलीमेडिसिन के व्यवस्था चिकित्सालय पर लागू कराएं। उन्होंने सीएससी के प्रभारियों को निर्देश दिए कि आशा एवं आंगनवाड़ी तथा ग्राम प्रधानों से संपर्क बनाकर जो भी मरीज आए उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया जाए। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से कहा कि सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार के मरीजों पर विशेष ध्यान दें। जिन मरीजों को एंबुलेंस द्वारा लाया जा रहा है उनको गांव छोड़ने की भी व्यवस्था कराई जाए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि चिकित्सकों को एक लिखित में पत्र भी दें कि किसी मरीज को अस्पताल से वापस न भेजा जाए। अगर कोई चिकित्सक ऐसा करते पाया गया तो सख्त कार्यवाही होगी। उन्होंने कहा कि सभी सीएससी सेंटर खुले रहे वहां पर किसानों का पंजीकरण करें। तभी किसान अपना गेहूं क्रय केंद्रों पर बेच सकेंगे। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अवश्य रहे। कहीं पर भीड़ न रहे। उन्होंने अग्रणी जिला प्रबंधक इलाहाबाद बैंक को निर्देश
बैठक में निर्देश देते डीएम-एसपी।
दिए कि आप बैंक ग्राहक सेवा केंद्र भी सभी खोलें और डोर टू डोर पैसा बांटने की व्यवस्था गांव-गांव कराएं। कोई भी लापरवाही न करें। उन्हें सख्त निर्देश भी जारी कर दें तथा जहां पर सेंटर चयनित हैं उसी गांव पर ही खोलें। सभी बैंकों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराएं। सभी जगह सिक्योरिटी गार्ड की व्यवस्था रहे। टोकन सिस्टम तथा एलाउंसमेंट भी करें। उन्होंने सभी उप जिलाधिकारियों से कहा कि जोनल तथा सेक्टर मजिस्ट्रेट को अपने स्तर से बैठक कर व्यवस्थाओं पर लगाएं। अपर जिलाधिकारी से कहा कि जो सीतापुर जोन में जोनल तथा सेक्टर मजिस्ट्रेट दोनों पालियों के लगे हैं उसमें आज सीतापुर सब्जी मंडी में भीड़ काफी थी उनसे जवाब तलब करें उन्होंने सभी जोनल तथा सेक्टर मजिस्ट्रेटों को निर्देश दिए कि क्षेत्र में तैनात रहकर सभी व्यवस्थाएं संचालित करें। जिलाधिकारी ने जिला पूर्ति अधिकारी से कहा कि ऊंचाडीह सगवारा तथा इटखरी के कोटेदारों की समस्याएं प्राप्त हुई हैं उनकी जांच कर आख्या उपलब्ध कराएं। अगर दोषी पाए जाएं तो उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही करें। कहीं पर कोई खाद्यान्न को लेकर समस्या नहीं होना चाहिए। शत-प्रतिशत खाद्यान्न निशुल्क वितरण हो इसका विशेष ध्यान दें। उन्होंने डिप्टी आरएमओ से कहा कि सभी गेहूं क्रय केंद्रों पर सुख सुविधाएं रहना चाहिए। कहीं पर कोई समस्या न हो। किसी भी क्रय केंद्रों पर किसानों को समस्या न रहे और गेहूं खरीद करें। जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारियों से कहा कि गांव के सभी हैण्डपम्प जो खराब तथा आंशिक मरम्मत योग्य हैं। उन्हें ठीक करा दें तथा जो रिबोर लायक हैं उन्हें तत्काल कराएं। पेयजल की समस्या न हो। टैंकरों से भी पानी की व्यवस्था कराएं। उन्होंने कहा कि पेयजल कंट्रोल रूम भी खोला गया है। उन्होंने जिला विकास अधिकारी को निर्देश दिए की एक रजिस्टर बनाया जाए जो भी समस्याएं पेयजल कि प्राप्त हो उनको अंकित करते हुए तत्काल निस्तारण कराएं। जिलाधिकारी ने गौशालाओं के संचालन पर कहा कि भूसा बैंक बनाकर भूसा की व्यवस्था कराएं तथा अस्थाई भूसा घर भी बना ले। हर गांव में ग्राम प्रधान किसानों से स्वेच्छा से भूसा दान कराएं। उन्होंने उप जिलाधिकारियों से कहा कि अपने क्षेत्र में यह देख ले कि जनपद का भूसा अन्य जनपदों पर कतई न जाए। इस पर पूर्णत रोक लगा दिया जाए। उप निदेशक कृषि से कहा कि किसान यूनियन के सहयोग से भी बड़े कृषकों से संपर्क कर वर्ष के लिए भूसा की व्यवस्था अवश्य करा लिया जाए। उन्होंने सभी अधिकारियों से कहा कि आरोग्य सेतु एप को अनिवार्य रूप से डाउनलोड कराएं। डाक अधीक्षक से कहा कि लगातार गांववार पोस्ट मास्टर को लगाकर माइक्रो एटीएम के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों को पैसे का वितरण कराया जाए। उन्होंने उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने क्षेत्र में जनपद की सीमा पर विशेष नजर रखें। कोई भी व्यक्ति आने जाने न पाए। पूर्णतया लाक डाउन की व्यवस्था को दुरुस्त रखें और वहां पर पर्याप्त पुलिस बल की भी व्यवस्था करें। जिला पंचायत राज अधिकारी से कहा कि भभेट ग्राम प्रधान व सचिव के खिलाफ कार्यवाही करें। उन्होंने अपनी गौशाला से गोवंश को छोड़ दिया है वह तत्काल अपनी गौशाला पर रखें। उन्होंने कहा कि कोई भी ग्राम प्रधान अपनी गौशालाओं की गायों को नहीं छोड़ेंगे। सभी एसडीएम तथा वीडियो यह सुनिश्चित करले। उन्होंने अपर जिलाधिकारी से कहा कि जन सुविधा केंद्रों के लिए एक पत्र जारी कर दें कि वह लोग अधिक पैसा न लें। अगर ऐसी समस्याएं प्राप्त हुई तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, उप जिलाधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

No comments