Latest News

पाइप लाइन फटने से पानी संकट, हैंडपंपों पर उमड़ी भीड़

मेन राइजिंग पाइप लाइन फटने से गहराया पेयजल संकट
मरम्मत में जुटे कर्मचारी, आज से आएगा नलों में पानी
 
बांदा, कृपाशंकर दुबे । कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए घोषित लाकडाउन में भी शहरी उपभेक्ताओं को पानी से संकट से जूझना पड़ रहा है। मेन राइजिंग पाइप लाइन फटने से पिछले दो दिनों से बांबेश्वर जोन से जुड़े तमाम मोहल्लों के उपभेक्ताओं के घरों में पानी की बूंद नहीं आई। लाकडाउन होने से लोग पानी का जुगाड़ भी नहीं कर पा रहे। पुलिस के खौफ से लोग घरों से बाहर निकलने में डर रहे हैं। जल संस्थान के प्रति लोगों में आक्रोश है।
पानी भरने के लिए बर्तन लेकर घरों से निकले लोग
प्रधानमंत्री ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लाकडाउन घोषित किया है। लोग भी लाकडाउन का काफी हद तक पालन कर रहे हैं। जिला प्रशासन ने पावर कारपोरेशन और जल संस्थान को निर्बाध बिजली और जलापूर्ति के निर्देश दिए हैं। सोमवार को बांबेश्वर पहाड़ पर स्थित मेन राइजिंग पाइप लाइन पानी का दवाब नहीं झेल पाई और फट गई। नतीजे में बांबेश्वर जोन से जुड़े खुटला, खिन्नी नाका, मढ़िया नाका, फूटा कुआं, निम्नीपार, रहुनिया, छोटी बाजार, बन्योटा समेत एक दर्जन मोहल्लों की जलापूर्ति ठप हो गई। घरों में पानी की बूंद नहीं आई। लाकडाउन होने से तमाम लोग पानी का जुगाड़ भी नहीं कर पा रहे। पुलिस के डर से लोग घरों से बाहर निकलने की हिम्मत नहीं जुटा पाए। जल संस्थान की इस
हैंडपंप पर पानी भरती महिला
लापरवाही से लोगों में आक्रोश नजर आया। लोगों का कहना है कि घर से बाहर निकलने पर पुलिस डंडे बरसाती है। ऐसे में पानी का जुगाड़ कहां से करें। गर्मी बढ़ने के साथ ही हरेक घर में पानी की खपत भी बढ़ने लगी है। उधर, जल संस्थान अधिशासी अभियंता वीरेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि बांबेश्वर पहाड़ में मेन राइजिंग पाइप लाइन फटने से जलापूर्ति बाधित रही। कर्मचारियों को पाइप लाइन मरम्मत कार्य में लगाया गया है। पाइप लाइन मरम्मत का काम पूरा कर लिया गया है। गुरुवार से पूर्व की तरह घरों में जलापूर्ति की जाएगी। 

No comments