Latest News

पीएसी आवासीय परिसर में चले लाठी-डण्डे, दस घायल

दोनों परिवार एक-दूसरे पर लगा रहे आरोप-प्रत्यारोप
सेनानायक ने जिला अस्पताल पहुंच घायलों का लिया हालचाल
कोतवाल ने दोनों पक्षों से मांगी तहरीर 

फतेहपुर, शमशाद खान । 12 वीं वाहिनी पीएसी के आवासीय परिसर में मंगलवार की रात किसी बात को लेकर दो परिवारों के बीच जमकर मारपीट हो गयी। मारपीट के दौरान एक पक्ष से आधा दर्जन व दूसरे पक्ष से चार लोग घायल हो गये। सभी घायलों को इलाज व मेडिकल परीक्षण के लिए जिला चिकित्सालय भेजा गया है। उधर दोनों परिवार एक-दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं। कोतवाल रवीन्द्र श्रीवास्तव ने दोनों परिवारों से तहरीर मांगी है। उधर घटना की जानकारी होने पर पीएसी के सेनानायक एपी सिंह ने जिला चिकित्सालय पहुंचकर घायलों का हालचाल जाना। 
जानकारी के अनुसार पीएसी आवसीय परिसर में कुसुमा देवी व मेराज बानो के घर आमने-सामने हैं। कुसुमा देवी 42 वर्ष पति अनंतराम के देहांत के बाद फॉलोवर हैं। वहीं मेराज बानो के पति मकसूद अहमद की दिसम्बर माह में सड़क हादसे में मौत हो गयी थी। कुसुमा देवी ने बताया कि देवर प्रेम नारायण 30 वर्ष मंगलवार की रात मच्छरदानी लगा रहा था। तभी मेराज बानो के परिवार वालों ने लाठी व कुल्हाड़ी से हमला बोल दिया। देवर को बचाने में वह भी परिवार के साथ पहुंची। हमले में कुसुमा देवी, देवर प्रेम नारायण, कुसुमा की बेटी सीलम 20 वर्ष, रीतू 18 वर्ष, नीतू 16 वर्ष बेटा धीरज 14 वर्ष घायल हुए। दूसरे पक्ष से मेराज बानो 41 वर्ष का कहना है कि पति की जगह उनकी बेटी या बेटे की नौकरी लगने वाली है। इसकी कुसुमा के परिवार को खुन्नस है। रात में खाना खाने के बाद बेटा और बेटी सड़क पर टहल रहे थे। इसी बीच पीछे से कुसमा देवी के घर वालों ने हमला बोल दिया। वह लोग बचाने पहुंचे और घायल हो गए। मेराज बानो की ओर से उनकी बेटी निशा 18 वर्ष, चमन 26 वर्ष व बेटा महफूज 22 वर्ष भी घायल हुए हैं। घटना की सूचना पर सेनानायक एपी सिंह ने जिला अस्पताल पहुंचकर दोनों परिवार का हालचाल जाना। उधर कोतवाल रवींद्र श्रीवास्तव का कहना है कि दोनों परिवार की तहरीर के आधार पर छानबीन कर कार्रवाई की जाएगी।

No comments