Latest News

कानपुर:-कोरोना में मदद के लिए फेरी और सब्जी वालों से व्हाट्सएप पर जुड़े थानेदार

पुलिस ने कभी सोचा भी नहीं होगा कि उन्हें मोहल्ले-मोहल्ले दूध-ब्रेड, सब्जी-फल और राशन बिकवाना पड़ेगा। लेकिन कोरोना महामारी ने ऐसे मोड़पर लाकर खड़ा किया तो थानेदार भी हौसला नहीं हारे और एक-एक मोहल्ले में राशन से लेकर रोजमर्रा की हर जरूरत का सामान घर-घर सप्लाई करा रहे। सप्लाई में परेशानी होने पर थानेदारों ने राशन, दूध, फल और सब्जी वालों को व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर जोड़ लिया और जहां कमी होती है, उन गलियों तक खाद्य सामग्री पहुंचाते हैं।
ग्रुप पर आदेश करते ही मोहल्ले में पहुंच जाती है फल-सब्जी
आमजा भारत कार्यालय संवाददाता:- नौबस्ता थाना प्रभारी आशीष शुक्ला ने बताया कि उन्होंने क्षेत्र के 50 से अधिक सब्जी, फल और राशन के दुकानदारों का अलग-अलग व्हाट्सएप ग्रुप बना लिया है। इसके साथ ही सभी को अलग-अलग मोहल्ला एलॉट कर दिया है। इसके बाद भी किसी क्षेत्र की आपूर्ति में दक्कित होती है तो व्हाट्सएप पर संदेश भेजकर पब्लिक की मदद करते हैं।

72 ई-रक्शिा चालकों की खड़ी कर दी चेन, ठेले वालों को भी जोड़ा
कर्नलगंज थाना प्रभारी ने बताया कि उन्होंने 72 ई-रक्शिा चालकों को अलग-अलग क्षेत्र में सप्लाई करने के लिए एक व्हाट्सएप ग्रुप पर जोड़ रखा है। ई-रक्शिा चालक अब आटा, दाल, चावल और सब्जी के साथ फल बेच रहे हैं। इसके साथ ही 35 से अधिक सब्जी और फल के ठेले वालों को जोड़कर पूरे क्षेत्र में सप्लाई करा रहे हैं। इसमें से अधिकांश जो पढ़े लिखे हैं सभी को व्हाट्सएप ग्रुप पर जोड़कर वह आसानी से सप्लाई करा रहे हैं।

No comments