Latest News

राहत कोष में सहयोग के लिए बालिका ने तोड़ी गुल्लक

जालौन, अजय मिश्रा । कोरोना से लड़ाई में योगदान करने में अब बच्चे भी पीछे नहीं हैं। नगर की 8 वर्षीय बालिका ने प्रधानमंत्री राहत कोष में सहयोग राशि देने के लिए अपनी गोलक तोड़ दी और उसमें मिले 2130 रुपये कोतवाल को सौंपकर प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा करने एवं लोगों को घरों से बाहर न निकलने की अपील भी की। बच्ची के इस प्रयास की सभी नगरवासी प्रशंसा कर रहे हैं। 
शुक्रवार की सुबह लगभग 10 बजे कोतवाली प्रभारी एसके सिंह के मोबाइल की घंटी बजी। कोतवाल ने जब काॅल रिसीव की तो मोहल्ला गणेशी जी निवासी राजीव गुप्ता की 8 वर्षीय बेटी काकुल गुप्ता ने पुलिस अंकल नमस्ते कहकर बताया कि इस समय देश कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इसमें वह भी अपना योगदान देना चाहती है। जब उन्होंने पूछा वह किस
कोतवाल को सहयोग राशि देती काकुल गुप्ता
प्रकार से अपना योगदान देना चाहती है तो उसने बताया कि उसको मिलने वाली पाॅकेट मनी वह गोलक में रखती है। जिसे वह प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा करना चाहती है। इसके लिए वह कोतवाली आना चाहती है। बच्ची की बात को सुनकर कोतवाल स्वयं काकुल के घर पहुंचे। जहां काकुल ने सभासद सोमिल याज्ञिक व संतोष गुप्ता के साथ परिजनों की उपस्थिति में अपनी गोलक फोड़कर उसमें मिले 2130 रुपये कोतवाली प्रभारी को देकर उसे प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा करने के लिए कहा। साथ ही उसने सभी नगरवासियों से लाॅक डाउन के दौरान घरों में ही रहने की अपील की। काकुल के इस प्रयास की सभी नगरवासियों ने तारीफ की है। 
कोरोना से जंग में 8 वर्षीय बालिका द्वारा दिए गए आर्थिक सहयोग को देखकर कोतवाली में तैनात एसआई, कांस्टेबल, महिला कांस्टेबल समेत समस्त पुलिस स्टाॅफ ने 30 हजार रुपये एकत्रित कर प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा किए हैं। इससे पूर्व कोतवाल सुनील सिंह अपना 15 दिन का वेतन व 5 हजार रुपये नगद प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा कर चुके हैं। 

No comments