Latest News

फेमस होने के चक्कर में सोशल डिस्टेंस का उड़ा रहे मजाक

एट (जालौन), अजय मिश्रा । कोबिड-19 महामारी मैं हर कोई दानवीर बनकर फेमस  होना चाहता है चाहे वह राजनीति से जुड़े व्यक्ति हो या सरकारी व प्राइवेट संस्थाएं। ऐसे में वह यह भी भूल जाते हैं कि सोशल डिस्टेंसिंग क्या होती है उन्हें चिंता है तो सिर्फ दानवीर बनकर फेमस होने की। वैश्विक महामारी से जहां गरीब निराश्रित लोगों के सामने भुखमरी का संकट पैदा हो गया है वही ऐसे में भी दानवीर  बनकर फेमस होने की होड़ लगी हुई है। महज सौ से डेढ़ सौ रुपए की राशन सामग्री देने हेतु पूरे गांव में ढिंढोरा पीट देते हैं जैसे ही गरीब निराश्रित लोगों को जानकारी होती है तो सैकड़ों की तादाद में उनके घर के आसपास जाकर खड़े हो जाते हैं जिससे जिले के आला अधिकारियों द्वारा सोशल डिस्टेंस के लिए किए जा रहे अथक प्रयास बेनामी साबित हो रहे हैं।
सोशल डिस्टेंड का मजाक उड़ाते लोग।
इसी तरह कस्बा में एक एनजीओ द्वारा राशन वितरण के नाम पर फेमस होने की होड़ में यह स्वयं सोशल डिस्टेंसिंग का मजाक उड़ाते नजर आए। कस्बा में ऑल इंडिया हेल्थ वर्कर एसोसिएशन की ब्लॉक कमेटी द्वारा ने शनिवार को गरीब निराश्रित को राहत सामग्री बांटने का ढिंढोरा पीट दिया जिससे गांव के सैकड़ों लोग वहां पर एकत्रित हो गए हालांकि गिने-चुने लोगों को ही राहत सामग्री मिल सकी। वही कमेटी के लोग दानवीर बनकर फेमस होने के चक्कर में सोशल डिस्टेंसिंग भी भूल गये। कमेटी के लोगों में राधेश्याम, राधारमण, विपिन, सोनू, जीतू, वीर सिंह, हरिमोहन, प्रमोद  शैलेंद्र, रामदास, वीरेंद्र, संतोष आदि लोग मौजूद रहे।

No comments