Latest News

पृथ्वी दिवस को सोशल मीडिया के माध्यम से मनाएं - डॉ सिंह

 फिरोजाबाद, विकास पालीवाल   ।  22 अप्रैल यानी आज बुधवार  को  पृथ्वी दिवस की 50 वी वर्षगांठ है । वैसे तो पृथ्वी दिवस की शुरुआत 22 अप्रैल 1970 को हुई थी और इस वर्ष का पृथ्वी दिवस कोरोना जैसी महामारी के चलते सोशल डिस्टेंसिंग तथा लॉक डाउन  जैसे कई प्रश्न अपने आप में लेकर आया है । पालीवाल महाविद्यालय  शिकोहाबाद के जंतु विज्ञान विभाग के अध्यक्ष  डॉक्टर एमपी सिंह ने कहा कि  पृथ्वी दिवस को  सोशल मीडिया  के माध्यम से मनाएं और उक्त नियमों का पालन करते हुए संभव हो सके तो  पृथ्वी की  कोख में एक वृक्ष अवश्य
डॉ एमपी सिंह ।
लगाएं क्योंकि पृथ्वी हमारी रतनगर्भा है । "पृथ्वी दिवस" का उद्देश्य वास्तव में उस दिवस से होता है कि इस दिन हम अपने व्यस्त जीवन में  अपने पर्यावरण के लिए कुछ करें जैसे ऊर्जा बचाएं, अपने संसाधनों की बचत करें, संरक्षण करें, रिसाइकल करें आदि ।  उन्होंने कहा कि  आज जब पूरा विश्व कोरोना जैसी महामारी के चुंगल में फंसा हुआ है तो हमारी नजरें प्रकृति प्रकृति की तरफ जुड़ी हुई हैं । हमें  अपनी वन संपदा  को बचाए रखना होगा , प्लांटेशन अधिक से अधिक करना होगा । 

No comments