Latest News

कोरोनटाइन व्यक्तियों के साथ भेदभाव नहीं:डीएम

बिजनौर, (संजय सक्सेना) कोरोनटाइन किए गए व्यक्तियों के साथ किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं किया जाएगा और उन्हें शासन के निर्देशों के अनुपालन में सभी प्रकार की आवश्यक सुविधायें उपलब्ध कराई जाएंगी। जिलाधिकारी रमाकांत पांडेय ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि यदि कोरंटाइन किए गए व्यक्ति के घर से पहनने के कपड़े, फल, साबुन आदि जैसी वस्तुएं उपलब्ध कराई जाती हैं तो उन्हें निर्धारित मानक के अनुसार उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। इसी के साथ उन्होंने सख़्त लहजे में यह भी कहा कि यदि कोई व्यक्ति, जो बाहर से आया हो और वह स्वयं को जांच के लिए प्रस्तुत नहीं करेगा तथा परिवार वालों द्वारा उसको छुपाया जाएगा, तो उन सब के विरूद्व कड़ी संवैधानिक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। उन्होंने बताया कि जो क्षेत्र हाॅट स्पाॅट घोषित किए गए हैं, वहां संक्रमण से बचाव की दृष्टि से आमजन के आवगमन को प्रतिबंधित कर दिया गया है। उक्त क्षेत्र का कोई व्यक्ति न तो बाहर आ सकता है और न ही काई व्यक्ति प्रतिबंधित क्षेत्र में प्रवेश कर सकता है। जिलाधिकारी श्री पाण्डे आज दोपहर 02 बजे कलक्ट्रेट सभागार में पत्रकार वार्ता कर रहे थे। उन्होंने बताया कि आज तक जिले में कुल 663 लोग कोराटंइन किए गए हैं, जिनमें 442 की जांच रिपोर्ट आ चुकी, जांच में 12 व्यक्तियों में कोविड-19 पाॅजेटिव पाया गया है, जबकि 221 लोगों की रिपोर्ट आनी बाक़ी हैै।
कोरोना वायरस कोविड-19 से जिलावासियों को सुरक्षित रखने नियमित रूप से विभिन्न क्षेत्रों में सेनेटाईजेशन एवं सफाई कार्य कराया जा रहा है और उन्हें सभी आवश्यक सामग्री एवं सेवाएं उपलब्ध कराने की समुचित व्यववस्थाएं की गईं हैं, ताकि किसी भी स्तर पर आमजन को कोई असुविधा न होने पाए। उन्होंने बताया कि शासन द्वारा निर्धारित राशन कार्डधारकों को पांच किलो चावल निःशुल्क उपलब्ध कराया जाएगा तथा रोजी-रोटी से वंचित मजदूर श्रेणी के लोगों को सरकारी एवं स्वैच्छिक संस्थाओं के माध्यम से निशुल्क पक्का भोजन पैकेटो में प्रतिदिन उपलब्ध कराया जा रहा है। चिकित्सकों की संस्था आईएमए द्वारा जिला प्रशासन को आमजन के लिए टेलीफोन पर चिकित्सीय परामर्श तथा घर पर पेथालोजी जांच की सुविधा उपलब्ध कराने के आश्वासन का पालन न किए की शिकायत पर जिलाधिकारी ने कहा कि उक्त सम्बन्ध में उनके पदाधिकारियों से वार्ता कर पालन सुनिश्चित कराया जाएगा। 
जिलाधिकारी ने बताया कि जिन क्षेत्रों में कोरोना पाॅजेटिव के मामले चिन्हित हुए हैं, उन हाॅटस्पाट क्षेत्रों में लाॅकडाउन का कड़ाई के साथ पालन सुनिश्चित कराया जा रहा है और आमजन को सभी आवश्यक सामग्री एवं सुविधाएं प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराई जा रही हैं, जबकि सामान्य क्षेत्रों में लाॅकडाउन के दौरान चिन्हित आवश्यक सुविधाओं को कुछ प्रतिबंधों के साथ आमजनों के द्वारा उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने प्रेस  बन्धुओं के सहयोग के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जनसामान्य में सोशल डिस्टेसिंग और मास्क के प्रयोग के महत्व को प्रभावी रूप से प्रचारित-प्रसारित करें ताकि लोग अपनी, अपने परिवार और समाज की सुरक्षा के लिए इनका प्रयोग करना अनिवार्य समझें। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि/रा अवधेश कुमार मिश्र, न्यायिक डा0 नितिन मदान, संयुक्त निदेशक स्वास्थ्य अनिल कुमार, उप जिलाधिकारी सदर ब्रिजेश कुमार, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट परमानन्द झा मौजूद थे। 

No comments