Latest News

बीमार बच्चों पर भी पुलिस ने नहीं किया रहम

फतेहपुर, शमशाद खान । लॉकडाउन तोड़कर मौज मस्ती करने वालो पर पुलिसिया सख्ती के खामियाजा आम आम लोगो को भी भुगतना पड़ा। पुलिसिया सख्ती के कारण अपने मासूम बच्चों का इलाज कराकर वापस आ रहे लोगो की बाइक को भी पुलिस ने रोक लिया। वाहन के सीज करने का सुनते ही परिजनों ने अस्पतालों के पर्चे तक दिखाये लेकिन पुलिस ने वाहनो को रोक लिया। इस दौरान बीमार बच्चो को लेकर से बचने की कोशिश करती रही। गाजीपुर निवासी मनीष अपने एक वर्षीय बच्चे के इलाज के लिये शहर के चाइल्ड स्पेशलिस्ट डॉ आरपी सिंह
बीमार बच्चों को लिए धूप में खड़ी महिलाएं।
को दिखाने पत्नी के साथ आये थे। इसी तरह रमवा पंथुवा गांव के निवासी अनूप सिंह अपने दो वर्षीय पुत्र को डॉ जेके उमराव को दिखाने आये थे। भूरा अपने अपने पांच वर्षीय बच्चे के इलाज के लिये शहर आये थे। जबकि घायल व्यक्ति इस दौरान इन लोगो ने पुलिस कर्मियों को डॉक्टरों के पर्चे दिखाते हुए बच्चों की बीमारी की बात बताई लेकिन पुलिस कर्मी नही पसीजे और कर्मियों ने बात अनसुनी कर लोगो को उतारकर वाहनो को खड़ा करा दिया। इस दौरान महिलाये अपने बीमार बच्चो को लेकर धूप से बचने के लिये सड़क किनारे बैठी रही। जबकि पुरूष बच्चे की बीमारी का हवाला देते हुए वाहनो को छोड़ने की गुहार लगाते रहे। 

No comments