Latest News

बंद रहेंगी दुकाने, लागू कराएं सोशल डिस्टेंसिंग: डीएम

बैंक, गैस सर्विस में टोकन सिस्टम, मास्क लगाना अनिवार्य
संस्थाए, समाजसेवी न बांटे पका भोजन
घर पर करें पूजा, इबादत

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरी । जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय तथा पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल की उपस्थिति में कोरोना वायरस से बचाव संबंधी बैठक संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने कहा कि महामारी के संक्रमण को रोकने एवं बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना एकमात्र उपाय होने के कारण जनपदवासियों, धर्मगुरुओं से अपील है कि मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारों में न जाकर घरों में ही इबादत, पूजा पाठ करें। सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें। अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वह लाक डाउन एवं सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन कराएं। हैंडवाशिंग व मास्क लगाने के संबंध में अपील करते हुए लोगों को जागरूक करें। ताकि संक्रमण तथा महामारी से स्वयं के साथ ही लोगों को भी बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि बाहर जो काम पर जा रहे हैं लोग उन्हें मास्क को अवश्य लगाना है। यह सबके लिए अनिवार्य है नहीं तो कार्यवाही की जाएगी। उप जिलाधिकारी तथा पुलिस क्षेत्राधिकारी से कहा कि लाक डाउन व्यवस्था पर शक्ति करें। होम डिलीवरी लगातार चलती रहे। अब दुकानें बंद रहेंगी। मेडिकल स्टोर को छोड़कर सेंटर होम की व्यवस्था अच्छी तरह से रहे। कहीं पर विद्युत तार व खंभे गड़बड़ है तो उसे तत्काल ठीक करा दें। अस्पताल में वेंटिलेटर की व्यवस्था सहित सभी दवाएं उपलब्ध हों। गैस एजेंसी, बैंकों तथा उचित दर विक्रेताओं की दुकानों में भीड़ अधिक हो रही है। वहां पर ध्यान देने की जरूरत है। सभी जोनल मजिस्ट्रेट तथा सेक्टर मजिस्ट्रेट क्षेत्र में सोशल डिस्टेंसिंग को लागू कराएं और जहां भीड़ अधिक हो वहां पर सेक्टर मजिस्ट्रेट रहे। सभी जगह पेयजल व्यवस्था कराएं और टोकन सिस्टम लागू करें। बैंकों में सिक्योरिटी गार्ड की भी व्यवस्था कराएं। सभी बैंकों पर अधिक कर्मचारियों को लगाया
बैठक में निर्देश देते डीएम।
जाए। मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि जिन बैंकों पर कार्य सही नहीं हो रहा है उनके खिलाफ कार्यवाही करें। अग्रणी जिला प्रबंधक से कहा कि उनकी तरफ से सभी बैंकों को पत्र भेजें। ताकि सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त रहे। मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि सेंटर होम के अलावा जहां पर सैनिटाइजेशन कराया जा रहा है उसकी सूचना उपलब्ध कराएं। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से कहा कि जो लोग बुखार, जुकाम, खासी के रोगी आ रहे हैं उनका सैंपल भेजकर जांच अवश्य कराएं तथा जिनका सैंपल ले रहे हैं उनको अस्पताल में ही भर्ती कराएं। प्रतिदिन मुख्य चिकित्सा अधिकारी 15 तथा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक 10 सैंपल अवश्य जांच के लिए भेजेंगे। प्राइवेट चिकित्सालय से भी सूचना लेकर व्यवस्था कराएं। जिलाधिकारी ने कहा कि समस्त राशन कार्डधारक जो लोग अभी तक राशन नहीं लिए हैं वह दो दिन के अंदर अपना उचित दर विक्रेताओं के यहां से खाद्यान्न प्राप्त कर ले। जिला पूर्ति अधिकारी से कहा कि जो लोग बाहर से आ रहे हैं उनके खाने की व्यवस्था कराएं। आटा, दाल, चावल आदि वस्तुओं के पैकेट दें। गांव में खण्ड विकास अधिकारी कराएंगे तथा शहर में नगर निकाय कराएं। अपर जिलाधिकारी से कहा कि शहर व ग्राम में जो भोजन बांट रहे हैं वह लोग अब न बाटे। भोजन सरकारी विभाग ही देंगेै। कोई स्वयंसेवी संस्था या सामाजिक कार्यकर्ता बांटना चाहता है तो आवश्यक वस्तुओं के पैकेट का वितरण करें। खंड विकास अधिकारियों से कहा कि हैंडपंपों का सर्वे करा ले। जिलाधिकारी ने कृषि पंचायती राज औषधि की उपलब्धता, पेयजल, विद्युत आदि विभागों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कंट्रोल रूम में जो समस्याएं प्राप्त होती हैं तत्काल उनका निस्तारण सही तरीके से करें। गांव में अच्छी तरह से व्यवस्था रहे। कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

No comments