Latest News

महुआ के फूल का उपयोग-डॉ फूल कुमारी

हमीरपुर, महेश अवस्थी  । कृषि विज्ञान केंद्र कुरारा, हमीरपुर जनपद हमीरपुर में महुआ के वृक्ष  बाग में देखे जा सकते हैं।  आजकल महुआ के वृक्ष से उसके फूल चू कर गिर रहे हैं तथा बर्बाद भी हो रहे हैं। किसान भाइयों आप इसका उपयोग करें और बर्बाद होने से बचाएं क्यों कि महुआ के फूलों में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस आदि पोषक तत्वों का धनी है। आयुर्वेद में इसके औषधीय गुण की चर्चा की गई है। यह वात, गैस, कफ, और पित्त को शांत करता है। रक्त में हीमोग्लोबिन को बढ़ाता है। घाव को जल्दी भरता है। पेट के विकारों को दूर करता है। खून में खराबी, श्वास रोग, टीवी, कमजोरी और खांसी में फायदेमंद है।

1.महुआ  के फूलों का खीर बनाकर-फूलों को  दूध में उबालकर खीर बनाकर सुबह-शाम खा सकते हैं। 
2.काढ़ा बना कर ़ काढे में लोंग, काली मिर्च, अदरक या सोंठ डाल सकते हैं। इससे सर्दी, ठंडी, गले में खराश दूर होगा एवं शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है
3- रोटी, पूडी, पराठा तथा हलवा बनाकर-महुआ के फूल को अच्छी तरह से धोकर पीस लें। आटे में मिलाकर इच्छानुसार पूडी  हलवा, पराठा या रोटी बना कर सेवन करें ।
4-ठेकुआ/ मीडीया पूड़ीबनाकर-फूल को अच्छी तरह पीसकर आटे में मिलाकर ठेकुआ बना ले। आवश्यकता अनुसार गुड़ या चीनी भी मिला सकते हैं।
5- मीठा नमकीन बनाकर-फूल को अच्छी तरह धोकर उसका रस निकाल ले। आटे मैं रस को मिला दे। आवश्यकता अनुसार गुड़ या चीनी मिला सकते हैं। कड़ाही में तेल या घी चूल्हे पर रखकर गर्म करें। कड़ाही के ऊपर छनी पर यह सामग्री रखकर चम्मच से दबाएं और तेल में छानकर निकाल लें। 
6. लड्डू बनाकर-फूल को पीसकर उसे बेसन, आटा या सूजी में मिलाकर   आप लड्डू बना सकते हैं।  पर एक बात का ध्यान रखें महुआ का उपयोग सीमित मात्रा में ही करें। ज्यादा सेवन करने से नशे की अनुभूति होने लगती है। महुआ का संरक्षण सुखा कर करें। इसे धूप में सुखाकर रख ले। बेमौसम में जब आप खीर या हलवा बनाते हैं तो आप किसमिस की तरह इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। मौसम में सूखे फूल से आप वह सब सामग्री भी बना सकते हैं । जिसको आपने ताजे फूल से बनाया है। सुखाए हुए फूल से बरसात के मौसम में आप लटा बना सकते हैं । जो बहुत ही स्वादिष्ट और पौष्टिक होता है। इसके लिए आप सूखे फूल को भून ले। अब इसमें भूना तिल, अलसी, मूंगफली, मक्का मिलाकर कूट लें। फिर इसकी लड्डू बना ले।

No comments