Latest News

कानपुर: लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों की अब खैर नहीं, ड्रोन से शुरू हुई मॉनिटरिंग, नौ पर एफआईआर

कानपुर में शुक्रवार को कोरोना पॉजिटिव चार नए मामले सामने आने के बाद कानून व्यवस्था सख्त कर दी गई है। लॉकडाउन के दौरान अब बिना प्रशासन के पास के बाहर निकलने पर तत्काल गिरफ्तार कर जेल भेजने के आदेश दिए गए हैं। आवश्यक वस्तुओं के आवागमन से संबंधित वाहनों और मीडियाकर्मियों को प्रेस कार्ड दिखाने पर छूट पहले की तरह जारी रहेगी।
आमजा भारत सवांददाता:- शनिवार को थाना बेकनगंज में ड्रोन से निगरानी की व्यवस्था शुरू की गई। साथ ही लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले नौ लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।
अपर जिलाधिकारी नगर विवेक श्रीवास्तव ने बताया कि महानगर में पहले से ही धारा 144 लागू है। ऐसे में लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर तत्काल एफआईआर दर्ज करने और उनकी गिरफ्तारी के भी आदेश हैं। इस व्यवस्था को अब और सख्त कर दिया गया है।
उन्होंने बताया कि सड़कों के अलावा मोहल्लों और गलियों में भी पेट्रोलिंग शुरू की जा रही है। जहां भी लोग बेवजह सड़कों पर पाए जाएंगे, उन्हें तत्काल जेल भेजा जाएगा।  जिलाधिकारी डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी ने बताया कि अब बिना पास के किसी को सड़क व मोहल्लों में नहीं निकलने दिया जाएगा।
जिला मुख्यालय में है पास बनवाने की व्यवस्था
आवश्यक वस्तुओं को लाने-ले जाने या फिर विशेष परिस्थिति में जिला प्रशासन वाहनों के लिए पास बना रहा है। इसके लिए सिटी मजिस्ट्रेट हिमांशु गुप्ता को नोडल अधिकारी बनाया गया है। इसके अलावा ऑनलाइन पास बनाने की व्यवस्था भी की गई है। केडीए के केंद्रीय कंट्रोल रूम में भी पास बनवाने की व्यवस्था की गई है। आवेदनकर्ता को अपने सभी कागजात के साथ जाना होगा। अभी तक करीब 25 हजार पास बनाए जा चुके हैं।
बिना पास कैंट में प्रवेश प्रतिबंधित
अब कैंट में बिना पास किसी को भी आने-जाने की मनाही है। क्षेत्र में कई चेकिंग प्वाइंट बनाए गए हैं। रक्षा मंत्रालय और सेना ने इस संबंध में निर्देश जारी किए हैं। स्टेशन हेडक्वार्टर के सूत्रों ने बताया कि रक्षा मंत्रालय से मिले निर्देशों के बाद छावनी क्षेत्र में अलर्ट जारी किया गया है। कहा गया कि कैंट से बाहर के लोगों को यहां आने के लिए डीएम की ओर से जारी पास दिखाना अनिवार्य होगा। कैंट के लोगों को छावनी परिषद और स्टेशन हेडक्वार्टर की ओर से जारी पास दिखाना होगा। छावनी क्षेत्र की सीमाओं पर बैरियर लगाए गए हैं। यहां पर आने वालों के आधार कार्ड या अन्य दस्तावेज भी चेक किए जा रहे हैं।

No comments