Latest News

क्रय केंद्रों में पहुचे डी एम व एस पी

क्षेत्रीय सहकारी समिति के अधिकारी का जवाब तलब

हमीरपुर, महेश अवस्थी  ।  प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत आज से जनपद के प्रत्येक राशन कार्ड धारकों (पात्र गृहस्थी एवं अंत्योदय कार्ड धारकों सभी को) को दिए जा रहे प्रति यूनिट 5 किलोग्राम निशुल्क चावल की व्यवस्था का जायजा लेने आज जिला अधिकारी डॉक्टर ज्ञानेश्वर त्रिपाठी व पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने जनपद की कुंडौरा तथा सुमेरपुर की उचित दर / राशन की दुकान का निरीक्षण कर राशन वितरण व्यवस्था का जायजा लिया ।उन्होंने कहा कि  25 अप्रैल तक शत प्रतिशत राशन का वितरण कर दिया जाय। इस दौरान जिलाधिकारी ने तौल व्यवस्था तथा उपलब्ध राशन का स्टॉक देखा जोकि सही पाया गया। उन्होंने कहा कि राशन वितरण के समय किसी तरह की भीड़  न लगाएं तथा सोशल डिस्टेंसिंग का शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित किया जाय। तथा मास्क अथवा रुमाल आदि लगाकर ही घर से बाहर निकला जाय। उन्होंने कहा कि कोटेदार द्वारा पैसे मांगने पर तत्काल सूचना दी जाय। कार्ड धारकों
द्वारा कुछ यूनिटों का आधार लिंक न होने के कारण उनका राशन न मिलने की सूचना प्राप्त होने पर जिलाधिकारी ने अभियान चलाकर 100% यूनिटों के आधार कार्ड लिंक करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने आज से गेंहू खरीद की व्यवस्थाओं का जायजा लेने सुमेरपुर मंडी तथा पी0सी0एफ0 केंद्र सुमेरपुर पहुचे । क्षेत्रीय सहकारी समिति सुमेरपुर की  गेंहू खरीद की तैयारियां पूरी न होने पर जिलाधिकारी ने पी0सी0एफ0 के जिला प्रबन्धक तथा केंद्र प्रभारी क्षेत्रीय सहकारी समिति सुमेरपुर का जवाब तलब किया है ।  उन्होंने कहा कि कल तक केंद्र में प्रत्येक दशा में गेहूँ क्रय का कार्य शुरू  हो जाय अन्यथा कड़ी कार्यवाही की जाएगी। मंडी सुमेरपुर में गेहूं खरीद की विभिन्न व्यवस्थाओं बोरो की उपलब्धता, किसानों का रजिस्ट्रेशन, टोकन व्यवस्था ,छाया ,पानी का जायजा लेते हुए जरूरी दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बाँट माप निरीक्षक द्वारा काँटो की जांच करा ली जाय। क्रय केंद्रों पर अव्यवस्था न रहे इसके लिए टोकन व्यवस्था के अनुसार ही शत प्रतिशत क्रय किया जाय। क्रय केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय। बिना टोकन लिए केंद्रों पर गेंहू लाने वालों, अनावश्यक भीड़ लगाने वालों पर कार्यवाही भी की जाय। ज्ञात हो कि गेंहू क्रय /विक्रय के लिए fcs.up.gov.in पर कृषको का पंजीयन होना अनिवार्य है।।

No comments