Latest News

केमिकल का छिड़काव कर गूलरनाका को किया गया सेनेटाइज

कोरोना पाजिटिव मरीज मिलने के बाद बरती गई सख्ती 
गूलरनाका के कुछ इलाकों में कर दी गई बैरिकेडिंग 

बांदा, कृपाशंकर दुबे  । तब्लीगी जमात मकरज से लौटे गूलरनाका निवासी साजिद अली के कोरोना पाजिटिव पाए जाने के बाद पूरा गूलरनाका इलाका कोरोना संक्रमण के दायरे में माना जा रहा है। हालांकि उसके परिवारीजनों समेत तमाम लोगों को मेडिकल कालेज में आईसुलेट कर दिया गया है, लेकिन फिर भी किसी प्रकार की कोताही नहीं बरती जा रही है। 
पुलिस क्षेत्राधिकारी आलोक मिश्र ने इलाके की निगेहबानी की
शनिवार को सुबह से ही पुलिस अधिकारी गूलरनाका इलाके पहुंचे और अपनी निगरानी में गूलरनाका इलाके को आईसुलेट कराया। दमकल कर्मियों ने पूरे इलाके के चप्पे-चप्पे को फव्वारा मारकर आईसुलेट किया है। इसके अलावा गूलरनाका के कई इलाकों में बैरिकेडिंग भी लगा दी गई है। इसके साथ ही नगर पालिका के कर्मचारियों के द्वारा ब्लीचिंग आदि का
गूलरनाका इलाके में मौजूद स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी और चिकित्सक
छिड़काव भी किया गया है। शनिवार को सुबह के समय पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर आलोक मिश्रा, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. संतोष कुमार और स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों ने भी निगेहबानी की। इलाके के लोगों को अपने घरों में ही रहने और एहतियात बरतने के सख्त निर्देश दिए गए हैं। गौरतलब हो कि गूलरनाका मुहल्ले का साजिद पहला कोरोना पाजिटिव
गूलरनाका इलाके को सेनेटाइज करता दमकल कर्मी
मरीज है। कोरोना पाजिटिव मरीज मिलने से जहां शहर में हलचल मची हुई है वहीं गूलरनाका इलाके के लोग सकते में हैं। प्रशासन ने सभी से अपील की है कि घर से बाहर कतई न निकलें और लाक डाउन का पालन करें। घबराने की जरूरत नहीं है। प्रशासन की ओर से पूरे इलाके को सेनेटाइज कराया गया है। प्रशासन ने यह भी अपील की है कि कोरोना पाजिटिव
गूलरनाका इलाके में मौजूद लेडीज पुलिस कर्मी
साजिद से मिलने-मिलाने लोग खुद ही मेडिकल कालेज पहुंचे और अपनी जांच कराएं। 

मेडिकल का आयुक्त और डीआईजी ने किया निरीक्षण 
बांदा। चित्रकूटधाम मंडलायुक्त गौरव दयाल और पुलिस उप महानिरीक्षक दीपक कुमार ने कोरोना पाजिटिव मरीज के आईसुलेशन वार्ड में भर्ती कराए जाने के बाद मेडिकल कालेज का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने मेडिकल कालेज में व्यवस्थाओं का जायजा लिया और मेडिकल कालेज प्रशासन को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। कहा गया कि कोरोना
मेडिकल कालेज में व्यवस्थाओं का जायजा लेते आयुक्त गौरव दयाल और पुलिस उप महानिरीक्षक दीपक कुमार
संदिग्ध मरीजों की देखरेख में किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जाए। इसके साथ ही स्वास्थ्य कर्मचारियों और चिकित्सकों को मास्क और सेनेटाइजर हर हाल में उपलब्ध कराया जाए। 

No comments