Latest News

मनरेगा कार्ड धारकों को चिन्हित कर मिलेगा फ्री खाद्यान्न

हमीरपुर, महेश अवस्थी  । जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी ने कहा कि ऐसे मनरेगा जॉब कार्ड धारकों तथा श्रम विभाग के पंजीकृत 100 % श्रमिकों को जिनको अभी तक  निशुल्क राशन / खाद्यान्न का वितरण नही किया गया है, उनको चिन्हित करके योजना के अंतर्गत शीघ्र वितरण किया जाए । उन्होंने कहा कि ऐसे जरूरतमंद लोगों / पात्र व्यक्तियों का जिनको किसी कारणवश अभी तक राशन कार्ड नहीं बन पाया है ।ऐसे लोगों को चिन्हित कर पूर्ति विभाग द्वारा अभियान चलाकर राशन कार्ड बनाया जाए।  जिलाधिकारी ने कहा कि किराना के सामानों तथा सब्जी ,फल आदि के डोर स्टेप डिलीवरी/ होम डिलीवरी के संबंध में वाणिज्यकर तथा आपूर्ति विभाग द्वारा संयुक्त रूप से  घर - घर निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित की जाए।
     जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद के अधिक से अधिक लोगों द्वारा आरोग्य सेतु एप्लीकेशन को इंस्टॉल किया जाए । इसके लिए प्रभावी प्रचार प्रसार किया जाए तथा इस ऐप को डाउनलोड किए जाने हेतु लोगों को प्रोत्साहित किया जाए । ज्ञात हो कि यह एप्लीकेशन कोविड-19 / कोरोना के संक्रमण के  संबंध में आस पास के संक्रमित व्यक्ति के बारे में मैसेज के
माध्यम से सूचित कर देता है जिससे संबंधित व्यक्ति सावधान हो जाता है । जिलाधिकारी ने कहा कि इस ऐप का सभी अधिकारियों, कर्मचारियों सफाई कर्मी, आशा ,एएनएम, शिक्षक आदि अनिवार्य रूप से डाउनलोड करे तथा दूसरों को भी डाउनलोड कर इंस्टॉल करने हेतु प्रोत्साहित करें। 
     जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में 15 अप्रैल से गेहूं खरीद शुरू हो जाएगी , इसके लिए सभी तैयारियां पूर्ण कर ली जाए । जनपद में कुल 46 क्रय केंद्र बनाएं गए हैं । इस बार बिना पंजीयन के क्रय केंद्रों पर गेहूं खरीद नहीं की जाएगी । ऐसे में किसान अनिवार्य रूप से अपना रजिस्ट्रेशन करा ले। उन्होंने कहा कि किसान क्रय केंद्रों में आने से पहले अपने नजदीकी क्रय केंद्र से टोकन अनिवार्य रूप से प्राप्त कर लें । जिलाधिकारी ने कहा कि गेंहू क्रय सुचारू रूप से हो तथा कृषकों को इसका  समयबद्ध ढंग से भुगतान हो इसके लिए सभी केंद्र प्रभारी अपने डिजिटल सिग्नेचर अनिवार्य रूप से बनवा ले।  जिलाधिकारी ने कहा कि गेहूं का क्रय टोकन की व्यवस्था द्वारा क्रम के अनुसार ही किया जाए । क्रय केंद्रों पर सफाई ,साबुन, सेनेटाइजर ,पेयजल ,छाया  आदि की अनिवार्य रूप से व्यवस्था रहे तथा बोरा , बैनर कांटा तथा अन्य जरूरत मंद सामान सभी क्रय केंद्रों पर  अनिवार्य रूप से उपलब्ध रहे।  उन्होंने कहा कि गेहूं क्रय में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाय।।

No comments