Latest News

रायबरेली से पैदल नरैनी से गुजरे कामगार

पांवों में पड़ गए छाले, रिस रहा था खून 

नरैनी, कृपाशंकर दुबे । आधा दर्जन राजमिस्त्री परिवार सहित लालगंज (रायबरेली) से पैदल चलकर नरैनी पहुंचे। उनके मध्य प्रदेश के पन्ना जिले के अमानगंज पहुंचना है। उनके पैरों में छाले पड़ गए हैं, खून रिस रहा था। लाक डाउन के चलते यह मुसीबत कामगारों को उठानी पड़ रही है। 
रायबरेली से मप्र के पन्ना जा रहा परिवार नरैनी से गुजरते हुए
मध्यप्रदेश के अमानगंज (पन्ना) निवासी 6 कारीगर, कई छोटे बच्चे तथा 5 महिलाओं के साथ लगभग 250 किलोमीटर दूर लालगंज भवन निर्माण का कार्य करने गये थे। लाक डाउन के चलते काम बंद होने के कारण तथा कोई वाहन न मिलने के कारण 30 मार्च को वहां से पैदल ही चल दिये थे। मंगलवार रात सभी मजदूरों को बांदा में भोजन दिया गया था। मजदूरों ने बताया कि प्रशासन से छिपकर लगातार खेतों के रास्ते से आये हैं। बताया कि इसी तरह छिपते हुये किसी तरह अपने गांव अमानगंज (पन्ना) पहुंचना चाहते हैं, जहां बूढ़े मां-बाप उनका इंतजार कर रहे हैं। 

No comments