Latest News

दूसरे प्रदेशों से लौटने वालों की भी होगी जांच

स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना वायरस को लेकर जांच का पैटर्न बदला
बाहर से लौटे मजदूरों और आम लोगों की ट्रैवल हिस्ट्री भी पूंछी जा रही

हमीरपुर, महेश अवस्थी । कोरोना वायरस पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने अपनी व्यवस्था में बदलाव किया है। जिसके बाद अब सिर्फ विदेश से आए लोगों की ही नहीं बल्कि दूसरे राज्यों से आए लोगों के स्वास्थ्य की भी जांच की जाएगी। अब तक जनपद में पांच ऐसे लोगों के सैंपल भी जांच को लखनऊ भेजे जा चुके हैं। दरअसल अभी तक हेल्पलाइन नंबर पर आपके स्वास्थ्य के साथ ही आपकी विदेश यात्रा के बारे में पंूछताछ की जाती थी, लेकिन अब आपसे यह भी पूछा जाएगा कि आपने हाल फिलहाल में देश के किसी ऐसे राज्य की यात्रा तो नहीं की है, जहां कोरोना के मामले सामने आए हों। यदि आपकी कोई ऐसी ट्रेवल हिस्ट्री है, तो संभव है कि आपके स्वास्थ्य की जांच हो। उत्तर प्रदेश की कोरोना वायरस हेल्पलाइन नंबर 18001805145 हो या फिर जिले के स्वास्थ्य विभाग के कंट्रोल रूप का हेल्पलाइन नंबर 05282-225491 हो। इन नंबरों पर फोन करने पर संबंधित व्यक्ति से विदेश यात्रा के साथ ही राज्य
स्तर पर ट्रेवल हिस्ट्री के बारे में भी पंूछा जाता है। जिला मुख्यालय पर बनाए गए कोरोना वायरस कंट्रोल रूम के हरीओम मिश्रा का कहना है कि शुरुआती दिनों में तो बीमारी से जुडे तमाम फोन कांल आते थे। जिसमें सामान्य बुखार और हल्के जुकाम में भी लोग भयभीत होकर फोन करते रहे। जिन्हें सुनने के बाद आवश्यकतानुसार सलाह भी जाती रही। लोगों से उनकी ट्रैवल हिस्ट्री के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं। लोगों से यह भी पूंछते हैं कि क्या वह किसी विदेशी नागरिक के संपर्क में तो नहीं आए। ऐसे सभी लोगों को चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। स्वास्थ्य विभाग के कोरोना वायरस कंट्रोल रूम के नोडल अफसर डा. एमके बल्लभ बताते हैं कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने जांच के लिए कुछ नए मानक तय किए हैं। अभी तक हम सिर्फ उन्हीं लोगों की जांच कर रहे थे, जिन्होंने कोई विदेश यात्रा की हो, लेकिन अब हम उन लोगों की भी जांच कर रहे हैं, जो दूसरे राज्यों की यात्रा कर जिले में आए हैं। वह बताते हैं कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा तय किए गए नए मानकों से अब हम अधिक से अधिक लोगों के स्वास्थ्य का परीक्षण कर पा रहे हैं। पिछले चैबीस घंटे के दौरान जनपद में ऐसे पांच लोगों के नमूने लेकर जांच को भेजे गए हैं, जो बाहर से जनपद आए हैं और क्वारंटीन किए गए हैं।

No comments