Latest News

निजामुद्​दीन से आकर सुफ्फा मस्जिद में ठहरे आठ विदेशी जमातियों के पासपोर्ट जब्त, वीजा निरस्त

आमजा भारत सवांददाता:- निजामुद्दीन मरकज तब्लीगी जमात से आए आठ विदेशी जमातियों के वीजा निरस्त कर पासपोर्ट जब्त कर लिए गए हैं। बाबूपुरवा की सुफ्फा मस्जिद में ठहरे इन विदेशी जमातियों को क्वारंटाइन किया गया है, जिसकी अवधि खत्म होने के बाद उन्हें जेल भेजा जा सकता है। फिलहाल विधिक राय ली जा रही है।

निजाजुद्​दीन मरकज से कानपुर आए थे विदेशी जमाती
तब्लीगी जमात से होकर 14 मार्च को ईरान के तीन, अफगानिस्तान के चार और इंग्लैंड के मैनचेस्टर शहर का एक जमाती कानपुर पहुंचा था। बाबूपुरवा थाने के दारोगा अब्दुल कमाल ने मंगलवार देर रात सभी के खिलाफ विदेशी अधिनियम, महामारी अधिनियम, लॉकडाउन के उल्लंघन की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया था। यह भी आरोप है कि जमातियों ने थाना बाबूपुरखा, स्वास्थ्य विभाग को अपने आने की जानकारी नहीं दी। सभी टूरिस्ट वीजा पर भारत आए थे, लेकिन यहां तब्लीगी जमात में शामिल होकर धार्मिक गतिविधियां कर रहे थे। बाबूपुरवा थाना प्रभारी राजीव सिंह ने बताया कि सभी के पासपोर्ट जब्त कर लिए गए हैं और उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट भेजकर आरोपितों के वीजा निरस्त कराए हैं। क्वारंटाइन अवधि पूरी होने के बाद इन्हें गिरफ्तार कर जैल भेजा जाएगा।

12 से 22 घंटे ही रुकना था कानपुर
सुफ्फा मस्जिद में ठहरे आठ विदेशी जमातियों ने नियम कायदों का पालन नहीं किया। पुलिस के रिकार्ड के मुताबिक उन्हें 12 से 22 घंटे तक ही कानपुर में रुकना था लेकिन वह यहीं रुक गए। पुलिस रिकार्ड के मुताबिक ईरान निवासी अब्दुर्रहीम मजदानी, इब्राहीम फुलादी और यूनुस रेगी 18 मार्च को केवल नौ घंटे के लिए कानपुर आए थे। इसके बाद उन्हें दिल्ली के निजामुद्दीन के लिए जाना था। इसी तरह से अफगानिस्तान के महमूद शाह हशेमी, शब्बीर अब्दुल रहीम, जारीन जाय जान मोहम्मद, वरात रहमद उल्ला 22-22 घंटों के लिए 14 मार्च को कानपुर आए थे। यह चारों भी यहां बिना बताए रुके हुए थे। ब्रिटेन निवासी दाउद अय्यूब इस्माईल 14 मार्च को 17 घंटे के लिए कानपुर आए थे। इन्हें भी तय समय के बाद निजामुद्दीन पहुंचना था।

इन पर है आरोप
इब्राहीम फुलादी पुत्र मोहम्मद निवासी ईरान। अब्दुरहीम मजदानी पुत्र खोदादाद निवासी ईरान। यूनुस रेगी पुत्र लाल मोहम्मद निवासी ईरान। महमूद शाह हशेमी निवासी अफगानिस्तान। शब्बीर अब्दुल रहीम निवासी अफगानिस्तान। जारीन जाय जान मोहम्मद निवासी अफगानिस्तान। वरात रहमद उल्ला निवासी अफगानिस्तान। दाउद अय्यूब इस्माईल निवासी मैनचेस्टर, इंग्लैंड।

No comments