Latest News

प्रतिदिन घर में एक सैकड़ा मास्क तैयार कर रहीं भाजपा नेत्री

जरूरतमंदों के बीच प्रतिदिन कराया जाता वितरण
बाजार में सामान न मिलने की वजह से काम में आ रही बाधा: विजय लक्ष्मी 
  
फतेहपुर, शमशाद खान । वैश्विक बीमारी कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पूरे देश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आहवान पर 21 दिनों का लाकडाउन घोषित किया गया है। लाकडाउन के आज 16 दिन पूरे हो गये। लाकडाउन का पालन कराये जाने के साथ-साथ घर से बाहर निकलने वाले लोगों को मास्क लगाकर ही निकलने की लगातार सलाह दी जा रही है। बाजार में माॅस्क की कमी को देखते हुए कई लोगों द्वारा इसको घर में ही तैयार कराया जा रहा है। इस काम में भारतीय जनता पार्टी की नेत्री विजय लक्ष्मी साहू भी जी-जान से लगी हुयी हैं। प्रतिदिन सैकड़ो मास्क घर पर ही अपने हाथों से सिलकर जरूरतमंदों के बीच वितरण कराने का काम कर रही हैं। उनके इस कार्य की चारों ओर प्रशंसा हो रही है। 
कोरोना के खिलाफ इस जंग में पूरा देश एकजुट है। कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए केन्द्र एवं प्रदेश सरकार प्रतिदिन अपने प्रयास कर रही हैं। लोगों से बराबर अपील भी की जा रही है कि लाकडाउन के दौरान अपने-अपने घरों से बेवजह बाहर न निकलें। खुद भी सुरक्षित रहें और दूसरों को भी सुरक्षित रखें। लाकडाउन के दौरान जरूरी कार्य से निकलने
घर पर मास्क बनाती भाजपा नेत्री विजय लक्ष्मी साहू।
वाले लोग अपने आपको सैनिटाइज करके व मास्क लगाकर ही निकलें। जिससे कोरोना वायरस को शरीर में पहुंचने से रोका जा सकते। लोगों को बराबर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की भी हिदायत दी जा रही है। मास्क की खपत बढ़ने पर बाजार में इसकी कमी भी हो गयी है। इस कमी की वजह से तमाम लोगों को मास्क नहीं मिल पाये हैं। इसलिए लोगों से घर पर ही मास्क बनाने की अपील भी की जा रही है। इस अपील पर भारतीय जनता पार्टी की नेत्री विजय लक्ष्मी साहू प्रतिदिन घर पर ही मास्क सिलने का काम कर रही हैं। उन्होने अपने आवास पर ही सिलाई मशीन लगाई है। बाजार से कपड़ा, ग्रिप, नलकी आदि सामान लाकर घर पर ही प्रतिदिन एक सैकड़ा मास्क बनाने का काम कर रही है। इन मास्क को जरूरतमंद लोगों के बीच वितरण भी किया जा रहा है। इस बाबत जब भाजपा नेत्री से बात की गयी तो उनका कहना रहा कि बाजार में मास्क महंगे दामों में बिक रहे हैं। जिसकी वजह से गरीब तबका इसको खरीद पाने में अस्मर्थ हो रहा है। इसलिए उन्होने अपने मन में ठानी कि वह प्रतिदिन मास्क तैयार करके जरूरतमंदों के बीच वितरण करने का काम करेंगी। इस मुहिम में वह लगातार लगी हुयी हैं। उन्होने बताया कि मास्क बनाने में कुछ कठिनाईयों का सामना भी करना पड़ रहा है। लेकिन उन्होने हिम्मत नहीं हारी और वह लगातार इस कार्य को अंजाम दे रही हैं। उन्होने बताया कि लाकडाउन की वजह से मास्क का सामान लेने में कुछ दिक्कत आ रही है लेकिन वह किसी तरह मैनेज करके मास्क बना रही हैं। उन्होने अन्य महिलाओं को भी इसकी प्रेरणा देते हुए कहा कि घर पर ही मास्क तैयार करके जरूरतमंदों के बीच बांटने का काम करें। यह भी एक पुण्य का काम है। 

No comments