Latest News

मुफलिसों के मसीहा बने मुमताज अली

मंगलवार को छाबी तालाब व दरी मुहाल में बांटी राशन किट
अधिवक्ताओं के मुशियों को भी दी राशन सामग्री
पूर्व मंत्री नसीम के निर्देशन में चल रहा सोनिया गांधी राशन किट का वितरण कार्य

बांदा, के0 एस0 दुबे । वैश्विक महामारी कोविड-19 के दौरान सम्पूर्ण भारत वर्ष में लाकडाउन के चलते गरीबांे के सामने जहां भोजन की समस्या को देखते हुए जिले में कई समासेवियों ने उनको भोजन उपलब्ध कराने का बीड़ा उठाया है। उनमंे कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता व पीसीसी सदस्य मुमताज अली व उनके छोटे भाई सफदर अली एडवोकेट भी शामिल हैं। लगातार 37 दिनों से कांग्रेस नेता के द्वारा सोनिया गांधी राशन सामग्री का वितरण कार्य किया जा जा रहा है। जिसके तहत गरीबों व जरूरतमंद परिवारों को उनके घर-घर जाकर मदद पहुंचाई जा रही है। इसी कड़ी में मंगलवार को शहर के छाबी तालाब व दरी मोहाल मर्दन नाका में में भी जरूरतमंद परिवारों को राहत सामग्री उपलब्ध करायी गई। इसके अलावा बार पदाधिकारियों को भी अधिवक्ताओं के मुशियों के लिए राशन सामग्री का वितरण किया गया। 
जरूरतमंदों को राशन सामग्री वितरित करते कांग्रेस नेता मुमताज अली
मंगलवार को पूर्व काबीना मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी के निर्देश पर चल रहे वितरण कार्य के तहत कांग्रेस पीसीसी सदस्य व नसीम के साले मुमताज अली ने शहर के छाबी तालाब मुहल्ले मे पहुंचकर गरीब व असहाय परिवारों को सोनिया गांधी किट के 50राहत सामग्री के पैकिट वितरित किए। इसके बाद मुमताज अली और उनके छोटे भाई ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए शहर के मर्दन नाका स्थित दरी मुहाल में भी गरीब व असहाय परिवारों को 50 राशन सामग्री की किट प्रदान की। इसके अलावा उन्होंने सभी को मास्क व सैनेटाइजर वितरित करते हुए सभी से शोसल डिस्टेंसिंग का पालन करने व घर पर रहने के लिए कहा। इसके
महिला को राशन सामग्री प्रदान करतीं फिरदौस सिद्दीकी
अलावा मुमताज अली व उनके छोटे भाई सफदर अली एडवोकेट ने जिला अधिवक्ता संघ के सचिव कैलाश सिंह व वरिष्ठ अधिवक्ता इदरीश खान को अधिवक्ताओं के गरीब मुशियों के लिए 31 सोनिया गांधी राशन किटों का वितरण किया। वहीं मुमताज अली के दामाद सलमान सिद्दीकी व उनकी बेटी फिरदौस सिद्दीकी ने भी अपने अलीगंज स्थित आवास से एक सैकड़ा गरीब परिवारों को सोनिया गांधी राशन किट प्रदान की। इस मौके पर सभासद जुगनू, पूर्व सभासद जावेद भाई व मजीद अंसारी आदि मौजूद रहे।

No comments