Latest News

नए बंदियों की कराएं अलग व्यवस्था: डीजे

जिला कारागार का औचक निरीक्षण

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरि। जनपद न्यायाधीश आरपी सिंह, जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय तथा पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने सोमवार को संयुक्त रूप से जिला कारागार का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने बैरकों में कैदियों से भोजन व्यवस्था, स्वास्थ्य आदि की विस्तृत जानकारी की। उन्होंने कहा कि मास्क अवश्य लगाएं रहें तथा सोशल डिस्टेसिग का पालन करें। जिला जज ने जेल अधीक्षक प्रकाश त्रिपाठी को निर्देश दिए कि कैदियों के लगातार स्वास्थ्य परीक्षण कराया जाए। कोई भी कैदी बीमार नहीं होना चाहिए। अगर कोई बीमार होता है तो मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक से संपर्क कर स्वास्थ्य परीक्षण कराएं। खाना-पानी की अच्छी प्रकार से व्यवस्था रहे। इसका विशेष ध्यान दें। जिलाधिकारी ने जेल अधीक्षक से कहा कि जो नए कैदी आए उनकी अलग व्यवस्था कराएं तथा जो कैदी बंद हैं उन्हें 2 मीटर के अंतराल पर अवश्य रखें। इसके अलावा पूरे परिसर की सफाई रहे। दवाओं आदि का भी छिड़काव लगातार कराते रहें। निरीक्षण के दौरान एसीजीएम अरुण कुमार यादव, स्पेशल जज पास्को संजय के लाल, विशेष न्यायाधीश गैंगस्टर आशुतोष कुमार सिंह, उप जिलाधिकारी कर्वी अश्विनी कुमार पाण्डेय, पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर रजनीश यादव, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली कर्वी अनिल सिंह साहित संबंधित जेल के अधिकारी मौजूद रहे।

कम्युनिटी किचन में सफाई का रहे ध्यान
चित्रकूट। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय तथा पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने तहसील कर्वी में संचालित कम्युनिटी किचन का निरीक्षण किया। जहां पर खाना, पानी की व्यवस्थाएं आदि की विस्तृत जानकारी उप जिलाधिकारी कर्वी अश्वनी कुमार पाण्डेय से कहा कि जो लोग खाना बना रहे हैं उनको हर घंटे साबुन से हाथ अवश्य धुलवाए तथा मास्क पहने। खाना लोगों को साफ सुथरा दिया जाए। कहीं पर कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। लगातार मानिटरिंग अवश्य करें। किचन की सफाई लगातार कराते रहें।
जेल का निरीक्षण करते जिला जज, डीएम, एसपी।

‘साधु-संतो का सहारा बनें स्वयंसेवी संस्थाएं’
-बंदरों को प्रतिदिन भोजन की करा रहे व्यवस्था
-उप्र-मप्र शासन का हर संभव सहयोग करेगी डीआरआई
चित्रकूट। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय, पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल तथा मध्य प्रदेश के उप जिलाधिकारी मझगवा एचएस धुर्वे ने सोमवार को दीनदयाल शोध संस्थान सियाराम कुटीर के परिसर पर स्वयंसेवी संगठनों के पदाधिकारियों के साथ आवश्यक बैठक की। 
जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय ने स्वयंसेवी संगठनों से कहा कि सबसे बड़ी चिंता जो परिक्रमा मार्ग की कर रहे हैं यह एक अत्यंत सराहनीय कार्य है। वहां पर काफी संख्या में निराश्रित तथा बेसहारा लोग रहते हैं। यह तय कर लिया जाए कि सुबह, शाम अलग-अलग संस्थाएं व्यवस्था करें। इसके साथ बंदरों तथा जानवरों की भी व्यवस्था रहे। खोही ग्राम पंचायत के ग्राम प्रधान द्वारा भी निराश्रित व असहाय के लिए भोजन की व्यवस्था कराई जा रही है। उन्होंने मंदाकिनी ट्रस्ट के अश्विनी कुमार अवस्थी से कहा कि कि बंदरों की प्रतिदिन व्यवस्था खाने की कराएं। उन्होंने यह भी कहा कि जिला पूर्ति अधिकारी को खाद्य सामग्री का नोडल अधिकारी नामित किया गया है जो स्वयंसेवी संस्थाएं सहयोग करना चाहती हैं वह उनके माध्यम से करें तथा भोजन आदि सामग्री का वितरण पर भी सहयोग ले। दीनदयाल शोध संस्थान के संगठन सचिव अभय महाजन ने कहा कि कामदगिरि परिक्रमा मार्ग, सती अनुसूइया, गुप्त गोदावरी आदि जगहों पर जाकर बंदरों तथा असहाय निराश्रित व साधु-संतों के भोजन आदि की व्यवस्था कराया जा रहा है। उन्होंने जिलाधिकारी चित्रकूट से कहा कि गनीवा विद्यालय को आइसोलेशन के लिए लें तथा मध्य प्रदेश प्रशासन आरोग्यधाम तथा मझगवा कृषि विज्ञान केंद्र को ले सकते हैं। संस्था सदैव उत्तर प्रदेश तथा मध्य प्रदेश शासन को हर संभव मदद करेंगी। उन्होंने यह भी कहा कि नगर पंचायत नयागांव के सीएमओ तथा खोही ग्राम प्रधान की एक बैठक करा लिया जाए। ताकि परिक्रमा मार्ग की व्यवस्था लगातार संचालित रहे। उन्होंने यह भी बताया कि कृषि विज्ञान केंद्र गनीवा के माध्यम से हमारी संस्था द्वारा किसानों को कोरोना वायरस के रोकथाम एवं बचाव के लिए जागरूक भी किया जा रहा है तथा मास्क एवं सैनेटाइजर का भी वितरण किया गया है। इस अवसर पर तुलसी पीठ कांच मंदिर के रामचंद्र दास उर्फ जय मिश्रा, सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट जानकीकुंड के ऋषि कुमार सहित अन्य संगठनों के प्रतिनिधि तथा संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

कामदगिरि ट्रस्ट ने दिए 51 हजार
चित्रकूट। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय को कामदगिरि प्रमुख द्वार के महंत मदन गोपाल दास महाराज ने कामदगिरि ट्रस्ट की तरफ से 51 हजार रुपए का चेक कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए मुख्यमंत्री पीड़ित सहायता राहत कोष में दान किया। 

No comments