Latest News

कोरोनावायरस कानपुर: कानपुर को लेकर मुख्यमंत्री बेहद गंभीर, नोडल अफसर ने पूछा-क्यों बढ़ रहे कोरोना केस

शहर में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेहद गंभीर है। शुक्रवार देर शाम वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से उन्होंने कोरोना संक्रमण से बचाव की तैयारियों की समीक्षा की थी। उन्होंने अफसरों से शहर में बढ़ रहे कोरोन संक्रमण के कारण की जानकारी लेने के साथ ही लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए थे और कुछ महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश दिए थे।
आमजा भारत सवांददाता:- उन्होंने कहा कि शारीरिक दूरी का सख्ती से पालन कराएं। बाहर से जो लोग कोरोना से संक्रमित होकर आए हैं, उनके संपर्को का पता लगाएं। यह भी सुनिश्चित करें कि चिकित्साकर्मियों में संक्रमण न फैले। उन्होंने क्वारंटाइन से भागने वालों पर मुकदमा दर्ज करने के भी निर्देश दिए। संकट के इस समय प्रदेश के 75 जिलों के बीच अच्छे प्रदर्शन के लिए प्रतिस्पर्धा होनी चाहिए।

डीएम डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी से कहा कि जरूरतमंदों को खाना बांटने के लिए स्वयं सेवी संस्थाओं पर अफसर निर्भर न रहें। मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारियों से कहा कि कालाबाजारी करने वाले कोटेदारों पर रासुका लगाएं। राशन बंटवाने के लिए नोडल अफसर नियुक्त करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले दो महीने के अंदर प्रदेश में पांच से 10 लाख श्रमिकों के लौटने की संभावना है। अन्य राज्यों में मौजूद उप्र के प्रवासी श्रमिकों को उनके गंतव्यों तक पहुंचाने से पहले इन्हें ठहराने के लिए शेल्टर होम की व्यवस्था कर ली जाए।

मुख्यमंत्री ने ये निर्देश भी दिए
अन्य राज्यों से लाये जाने वाले श्रमिकों के लिए इंतजाम किया जाए। रमजान में कहीं भी कोई भीड़ इकट्ठी न हो। 30 जून तक कोई सार्वजनिक सभा नहीं होगी। मंडियों को खुले मैदान में शिफ्ट किया जाएगा।

नोडल अफसर ने भी की थी बैठक
कोरोना के मामलों की समीक्षा के लिए नोडल अफसर प्रमुख सचिव नीतिन रमेश गोकर्ण ने कलेक्ट्रेट में बैठक करके अफसरों से पूछा कि आखिर कोरोना संक्रमण के मामले क्यों बढ़ रहे हैं। डीएम डॉ. ब्रrादेव राम तिवारी ने कहा कि जांच की क्षमता बढ़ाई जा रही है। जिन स्थानों पर हॉट स्पॉट हैं, वहीं से कोरोना रोगी सामने आ रहे हैं। नोडल अधिकारी ने तैयारियों के संबंध में जानकारी मांगी तो बताया गया कि प्रतिदिन 250 सैंपल लिए जा रहे हैं। 800 बेड की व्यवस्था की गई है। प्रमुख सचिव ने कहा कि जांच के सैंपल लेते समय स्वास्थ्यकर्मी व पुलिस जवान पूरी तरह से खुद को सुरक्षित रखें। सैंपल लेने में गाइड लाइन का पालन किया जाय। जहां भी कोरोना पॉजिटिव रोगियों को रखा जाये, वहां सभी व्यवस्थाएं पूर्ण हों। एडीजी जय नारायन सिंह, मंडलायुक्त सुधीर एम बोबडे, एसएसपी अनंत देव तिवारी उपस्थित रहे।

No comments