Latest News

कानपुर: नशेबाज ने मामा को चाकू से गोद डाला

कानपुर के रेलबाजार थाना क्षेत्र स्थित कुम्हार मंडी में शराब को लेकर हुए विवाद के बाद नशेबाज ने चाकू से गोदकर अपने मामा की हत्या कर दी। पब्लिक ने आरोपी को दबोचकर जमकर पीटा और पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।
सवांददाता सचिन गुप्ता:- कुम्हार मंडी निवासी कार चालक सुरेश (35) के परिवार में पत्नी मंजू और मां कमला हैं। इंस्पेक्टर रेलबाजार दधिबल तिवारी ने बताया कि सुमित अपने मामा सुरेश के घर शराब मांगने पहुंचा था। सुरेश ने शराब न होने की बात कही। इस पर वह गाली-गलौज करने लगा। विवाद बढ़ने पर सुमित ने चाकू से सुरेश के पेट में कई वार कर दिए।

सुरेश लहूलुहान होकर गिर गए। सुमित ने भागने का प्रयास किया तो परिजनों ने शोर मचा दिया। इलाकाई लोगों ने सुमित को दबोचकर पुलिस को सूचना दी। आनन-फानन में सुरेश को हैलट पहुंचाया गया। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इंस्पेक्टर ने बताया कि सुरेश की मां कमला की तहरीर पर हत्या की एफआईआर दर्ज कर सुमित को गिरफ्तार कर लिया गया है। सुरेश के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

पुलिस की लापरवाही सामने आई
इलाकाई लोगों से पता चला है कि हत्यारोपी सुमित पिछले सात आठ दिनों से चाकू लेकर घूम रहा था। इसकी शिकायत पर उपेंद्र नाम के सिपाही ने सुमित को चाकू के साथ पकड़ा था। हालांकि फटकार लगाकर उसे छोड़ दिया। पुलिस लापरवाही न करती तो शायद सुरेश की जान बच जाती।

खुद को बताता था मंदिर का पुजारी
इंस्पेक्टर ने बताया कि सुमित व सुरेश अक्सर साथ में नशेबाजी करते थे। सुमित बाबा बनकर घूमता था। वह अपने को एक मंदिर का पुजारी भी बताता है। वह स्मैक भी पीता है। शहर में लॉकडाउन है। ऐसे में ठेके बंद है। शराब व स्मैक न मिलने से सुमित पागल सा हो रहा था। सुरेश के शराब न देने पर वह आपा खो बैठा था। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि सुरेश के पास उसकी मां के कुछ पैसे हैं। प्रॉपर्टी का भी विवाद है। इसलिए उसने सुरेश को मार डाला। इस संबंध में पुलिस को अभी पुख्ता साक्ष्य नहीं मिले हैं।

No comments