Latest News

कोरोना वायरस कानपुर:- : पांच संदिग्ध मरीजों की मौत, तीन और पॉजिटिव केस मिलने के बाद संख्या 195

जिले में हॉटस्पॉट क्षेत्रों से लगातार कोराेना पॉजिटिव केस सामने आ रहे हैं। जीएसवीएम मेडिकल काॅलेज की कोविड-19 लैब की जांच में साेमवार को तीन और कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं, इसमें मन्नापुरवा, बाबूपुरवा एवं गड़रिया मोहाल के एक-एक संक्रमित हैं। इसके साथ ही संक्रमिताें की संख्या 195 पहुंच गई है, जिसमें से तीन मरीजों की मौत हो चुकी है और 18 लोग ठीक होकर अस्पताल से जा चुके हैं। इस तरह कोरोना संक्रमण के 177 एक्टिव केस हैं।
आमजा भारत कार्यालय संवाददाता:- साेमवार सुबह तक हैलट के कोविड-19 हॉस्पिटल के आइसीयू में पांच कोरोना संदिग्ध मरीजों की मौत हो गई, उनकी जांच रिपोर्ट का इंतजार है। सीएमओ डाॅ. अशाेक शुक्ला ने बताया कि मेडिकल कॉलेज की कोविड लैब से 148 नमूनों की जांच रिपोर्ट आई है, जिसमें तीन केस कोरोना पॉजिटिव हैं। इनमें गड़रिया मोहाल, बाबू पुरवा एवं मन्नापुरवा से एक व्यक्ति में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है।

उन्नाव में मिला दूसरा कोरोना पाजिटिव केस
उन्नाव जिले के किला क्षेत्र में तबलीगी जमात से जुड़ा युवक कोरोना संक्रमित मिलने के 12 दिन बाद शुक्लागंज के आनंदनगर मोहल्ले में कोरोना पॉजिटिव दूसरा केस सामने आया है। यहां एक महिला में कोरोना संक्रमण मिलने की पुष्टि के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उसके परिवार के तीन सदस्यों को आइसोलेट कर दिया है। पाजिटिव मिली महिला की कानपुर में जांच कराई गई थी। प्रशासन ने आनंदनगर मोहल्ले के एक किमी के दायरे को रेड जोन घोषित करके रास्ते और गलियों में बैरीकेडिंग कराकर सील कर दिया है। पुराने गंगा पुल को पूरी तरह सील कर दिया गया है, जबकि नवीन गंगा पुल से किसी को शुक्लागंज से कानपुर नहीं जाने दिया जा रहा है। कानपुर से शुक्लागंज आने वाले लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। रेड जोन को सैनिटाइज किए जाने का काम नगर पालिका कर रही है।

कानपुर में बिगड़ रहे हालात, 27 पॉजिटिव में 17 महिलाएं
जैसे-जैसे दिन आगे बढ़ते जा रहे हैं, कोरोना का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। घर के बाहर घूम रहे लापरवाह पुरुष कोरोना को घर के अंदर तक ले आए हैं। रविवार सुबह और शाम 189 नमूनों की जांच रिपोर्ट में पॉजिटिव मिले 27 मामलों में 17 महिलाएं हैं। ऐसा पहली बार हुआ है, जब एक साथ इतनी महिलाएं संक्रमित मिली हैं। इसके अलावा, दो पुलिसकर्मी और मुरारीलाल चेस्ट हॉस्पिटल का एक वार्ड ब्वाय भी पॉजिटिव मिले हैं। जिले में अब तक 192 संक्रमित मिले हैं, इनमें से तीन की मौत हो चुकी है, जबकि सात स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। इस तरह मौजूदा समय में 182 एक्टिव केस हैं।

सीएमओ डॉ. अशोक शुक्ला का कहना है कि कोरोना का संक्रमण घरों तक पहुंच गया है। लॉक डाउन का पालन नहीं करने वाले लोग बाहर घूम रहे हैं। उसके बाद घर जाकर अपने घर की महिलाओं की भी संक्रमित कर रहे हैं। शनिवार को मेडिकल कॉलेज की कोविड-19 लैब से आई जांच रिपोर्ट में 27 कोरोना पॉजिटिव आए हैं। इसमें सात मन्नापुरवा की सात महिला, तीन पुरुष, कर्नलगंज क्षेत्र से भी सात महिला, एक पुरुष और सादिक मियां का हाता का एक युवक है। रायपुरवा थाना और जाजमऊ चौकी के एक-एक पुलिसकर्मी संक्रमित मिले हैं। कानपुर के नोडल अधिकारी एवं लोक निर्माण विभाग के प्रमुख सचिव नितिन रमेश गोकर्ण ने कहा कि संदिग्ध व्यक्ति का सैंपल लेने के बाद उसे छोड़ना हाई रिस्क हो जाता है। जब तक रिपोर्ट निगेटिव नहीं आ जाएगी संदिग्ध व्यक्ति को भी क्वारंटाइन किया जाएगा।

नौ कोरोना संदिग्ध भर्ती, एक महिला की मौत
रविवार को हैलट के कोविड-19 हास्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में नौ संदिग्ध मरीज भर्ती हुए। उनमें से सात को कोविड आइसीयू में शिफ्ट कर दिया गया है। उधर, शनिवार शाम भर्ती हुई फतेहपुर निवासी 50 वर्षीय महिला की रविवार दोपहर मौत हो गई।

No comments