Latest News

जामिया अरबिया हथौरा मदरसे से 10 लोग उठाए गए

महाराष्ट्र से आई चिट्ठी के बाद हरकत में आया प्रशासन 
छह के भेजे गए सेंपल, पांच निगेटिव मिले, एक की रिपोर्ट का इंतजार 
जिलाधिकारी के निर्देश पर हथौरा मदरसे को किया गया होम क्वारंटाइन
शहर से भी दो लोग उठाए गए, ये भी मरकज इत्जिमा में हुए थे शामिल 
बिसंडा कस्बे से चार परदेशी बाबुओं को भी लाया गया मेडिकल कालेज 
 
बांदा, कृपाशंकर दुबे । मुख्यालय से करीब 15 किलोमीटर दूर स्थित मदरसा जामिया अरबिया हथौरा से जिला प्रशासन ने बुधवार की देर शाम 10 लोगों को उठाया है। जिला प्रशासन का दावा है कि जांच के दौरान पाया गया कि मदरसे में रहने वाले कुछ लोग तब्लीगी जमात के निजामुद्दीन दिल्ली स्थित मरकज गए थे। सुरक्षा की दृष्टि से प्रशासन ने मदरसे को तत्काल प्रभाव से होम क्वारंटाइन करते हुए वहां रहने वाले सभी लोगों के अंदर से बाहर और बाहर से अंदर जाने पर पाबंदी लगा दी है। 
गौरतलब हो कि बुधवार की दोपहर मंडलायुक्त गौरव दयाल और डीआईजी दीपक कुमार ने मदरसा पहुंचकर संचालकों से मुलाकात की थी। उक्त अधिकारियों ने वहां के जिम्मेदार लोगों से अपील की थी कि लाक डाउन का पूरी तरह पालन करें। साथ ही यह भी पूछा था कि यहां का कोई व्यक्ति मरकज तो नहीं गया। जिस पर मदरसा संचालकों ने साफ इनकार किया था। अधिकारी लौटकर मुख्यालय आए ही थे कि महाराष्ट्र के अपर जिलाधिकारी का पत्र मिला, जिसमें स्पष्ट लिखा था कि दिल्ली स्थित मरकज में शामिल मोहम्मद मुजाहिदुल इस्लाम अब्दुल मजीद कासमी तयादे नगर नागपुर रोड का रहने वाला है जो बांदा जनपद में है। पत्र मिलते ही अफसरों के हाथ-पांव फूल गए। सूत्रों की मानें तो आनन-फानन में हथौरा मदरसे पहुंची टीम ने जब सख्ती दिखाई तो मदरसा प्रशासन ने स्वीकार किया कि उक्त व्यक्ति उनके यहां मौजूद है। इसके बाद जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की संयुक्त टीम ने 10
जामिया अरबिया हथौरा मदरसे के बाहर मौजूद अधिकारीगण और पुलिस
लोगों को उठाकर मेडिकल कालेज में भर्ती कराया और इनके नमूने जांच के लिए भेजे थे। इधर, शहर के ही साजिद अली व यासीन पुत्र अजीज निवासी मर्दननाका को भी जिला प्रशासन ने मेडिकल कालेज में भर्ती कर आईसुलेट कराया है। बताया गया है कि उक्त दोनो व्यक्ति छह मार्च की शाम दिल्ली गए थे और सात से 9 मार्च तक तबलीगी जमात मरकज के इत्जिमा में शामिल हुए थे और 11 मार्च की सुबह जनपद वापस आए थे। इसके अलावा बिसंडा क्षेत्र से चार लोगों को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उठाया है, जिन्हें कोरोना वायरस का संदिग्ध मरीज बताया गया है। इन्हें भी मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है। जामिया अरबिया हथौरा मदरसे का मरकज से जुड़ा होना पाए जाने पर जिलाधिकारी अमित सिंह बंसल के निर्देश पर मदरसे को क्वारंटाइन कर दिया गया है। हिदायत दी गई है कि मदरसे का कोई भी व्यक्ति बाहर न निकलेगा और न ही बाहर से ही कोई अंदर जाएगा। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए उप जिलाधिकारी सदर को जिम्मेदारी सौंपी गई है। हथौरा मदरसे के संबंध में मंडलायुक्त गौरव दयाल ने बताया कि सूचना के बाद मदरसे से 10 लोगों को उठाकर मेडिकल कालेज में आईसुलेट कराया गया है। छह लोगों के सेंपल जांच के लिए लखनऊ भेजे गए थे, जिनमें पांच की रिपोर्ट निगेटिव है। एक रिपोर्ट का इंतजार है। 

No comments