Latest News

Kanpur Lockdown Day 3 : साहब ! मेरे पति की मौत हो गई है, प्लीज मुझे घर भिजवा दीजिए

लॉक डाउन के दौरान पुलिस बेवजह सड़क पर घूमने वालों के लिए सख्ती दिखा रही है तो मुसीबत में फंसी जनता की मददगार बन रही है। भूखों तक खाना पहुंचाने से लेकर मुसीबत के मारों को घर तक भी पहुंचा रही है। कंट्रोल रूम में आई कॉल में महिला ने कहा-सर, मेरे पित की मौत हो गई है प्लीज मुझे घर भिजवा दें...। इसपर सक्रिय हुई पुलिस उस महिला के घर गई और उसे एनओसी देकर कार से प्रतापगढ़ भिजवाया।
कानपुर आमजा भारत संवाददाता:- यह मामला बर्रा थाना क्षेत्र का है। प्रतापगढ़ की रहने वाली रूबी के पति बृजलाल होमगार्ड थे। रूबी का भाई बृजेश कानपुर के बर्रा में रहता है। स्वजनों ने बताया कि चार माह पहले रूबी के भाई बृजेश के घर में बेटा हुआ था, तब रूबी कानपुर आ गई थी और यहीं पर है। गुरुवार को बीमारी के कारण उनके पति बृजलाल की मौत हो गई। फोन पर ससुराल वालों ने इसकी जानकारी दी।

लॉक डाउन होने की वजह से वह प्रतापगढ़ नहीं जा पा रही थी। ससुरालीजन रूबी के इंतजार में शव को अंतिम संस्कार के लिए रोके थे। रूबी ने कंट्रोल रूम पर फोन करके पुलिस से मदद मांगी। उसने बताया कि मेरे पति की मौत हो गई है, उसे किसी तरह ससुराल प्रतापगढ़ भेजने की व्यवस्था की जाएगी। सूचना पर पहुंचे थाना प्रभारी रणजीत राय ने अपने खर्चें से कार बुक कराकर चालक को एनओसी देकर उसे प्रतापगढ़ भिजवाया।

No comments