Latest News

Coronavirus : यूपी के कानपुर में सामने आया कोरोना वायरस का पहला पाजिटिव केस

देश दुनिया में कहर बरपा रहे कोरोना वायरस अब कानपुर तक पहुंच गया है। यूपी में गाजियाबाद, लखनऊ और आगरा के बाद अब कानपुर में कोरोना वायरस (कोविड-19) का पहला केस सामने आया है। अमेरिका से लौटे दंपती की जांच में बुजुर्ग को कोरोना वायरस का संक्रमण होने की पुष्टि हुई है। उसे हैलट के आइएचडी में भर्ती कराने के साथ पूरे परिसर को सील कर दिया गया है।
कानपुर गौरव शुक्ला:- मैनावती मार्ग स्थित एक सिटी में रहने वाले बुजुर्ग दंपती समेत तीन लोग 18 मार्च को अमेरिका से लौट कर आए थे। आसपास के लोगों ने सीएमओ डॉ. अशोक शुक्ला को रविवार दोपहर सूचना दी थी। जानकारी के बाद पहुंची टीम को पहले दंपती नमूना देने के लिए तैयार नहीं थे। सीएमओ ने समझाकर जिला सर्विलांस टीम के प्रभारी और जिला महामारी वैज्ञानिक डॉ. देव सिंह की अगुवाई में टीम भेजी थी। उनका नमूना लेने के साथ रविवार शाम पांच नमूने जांच के लिए केजीएमयू भेजे गए थे।

लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) से सोमवार दोपहर आई जांच रिपोर्ट में सत्तर वर्षीय बुजुर्ग में कोविड-19 के संक्रमण की पुष्टि हुई है। रिपोर्ट मिलने के बाद से स्वास्थ्य महकमे और प्रशासन में खलबली मच गई है। स्वास्थ्य विभाग की टीम, पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गए और बुजुर्ग लाकर हैलट के संक्रामक रोग अस्पताल (आइडीएच) में भर्ती कराया है। निवास की जगह वाले पूरे इलाके को सील कर दिया गया है। इसके साथ बुजुर्ग के घर के सभी सदस्यों को भी आइसोलेटे कर दिया गया है।

कोराना वायरस संक्रमित मरीज की पुष्टि के बाद हैलट में कंसल्टेंट आगे आने से कतरा रहे हैं। फ्लू ओपीडी और आइडीएच की व्यवस्था संभाल रहे नान पीजी जूनियर रेजीडेण्ट (एनपीजी) को दिशा-निर्देश देने लगे और गाइडलाइन की दुहाई दी। जिलाधिकारी डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी ने बताया कि केजीएमयू से आई जांच रिपोर्ट में एक 70 वर्षीय बुजुर्ग में कोविड-19 के संक्रमण की पुष्टि हुई है। वह 18 मार्च को अमेरिका से लौटे हैं। उन्हें हैलट के संक्रामक रोग अस्पताल में भर्ती करा दिया है।

No comments