Latest News

Coronavirus के बीच कनपुरिए धड़ाधड़ पलटने लगे रामचरित मानस के पन्ने

बीते दिनों ताबीज से कोरोना वायरस से बचाव की अफवाह के बाद अब कानपुर में बहुत तेजी से एक अफवाह फैल रही है। वैज्ञानिकों ने अफवाह पर ध्यान न देने और कोरोना वायरस से बचाव संबंधी सभी सावधानियां बरतने की अपील की है। वहीं पुलिस ने प्रशासन ने भी लोगों से कतई ऐसी अफवाह पर ध्यान न देने और साफ सफाई रखकर सावधानियां बरतने को कहा है।
सुबह तेजी के साथ फैली अफवाह

शनिवार की सुबह कानपुर में एक अफवाह तेजी के साथ फैली कि रामचरित मानस के बाल कांड में एक बाल निकल रहा है। रामचरित मानस के बालकांड से निकलने वाले तीन अंगुल के बाल को पानी में उबाल कर गंगाजल मिलाएं और इसके बाद उसे परिवार को पिलाएं, इससे संकट नहीं आएगा। बाल को बालकांड में ही रख दें और रोजाना ऐसा ही करें।

लोगों ने पलटे रामचरित मानस के पन्ने

जंगल में आग की तरह शहर में तेजी से चर्चा बढ़ी तो लोगों ने रामचिरत मानस के बालकांड के पन्ने पलटने लगे। इसमें कुछ ने बाल निकलने की पुष्टि की तो कई लोगों ने बात को टाल दिया। बर्रा निवासी रूपाली बाजपेयी ने बताया कि उन्होंने भी बालकांड के पन्ने पलटे और रिश्तेदार को जानकारी दी। बाल मिलने की सूचनाएं कई घरों से मिली है। किदवईनगर निवासी अन्नू शक्ला के पास यह खबर पहुंची लेकिन उन्हें कोई बाल नहीं मिला। कानपुर सें शुरू अफवाह दूसरे शहरों में भी पहुंच गई।

क्या कहते हैं विशेषज्ञ

डीएवी डिग्री कॉलेज के भौतिकविद डॉ. अमित श्रीवास्तव कहते हैं कि यह सच है कि धार्मिक ग्रंथों में विज्ञान छिपा हुआ है लेकिन ऐसी अफवाहोंं का विज्ञान का कोई लेनादेना नहीं है। लोगों को इस तरह की अफवाहों से बचना चाहिये और बीमारी से बचाव के लिए जरूरी सावधानियां अमल में लाना चाहिये। हर घर में लोग रामचरित मानस का पाठ करते हैं, अक्सर धार्मिक आयोजनों के समय एक दूसरे के घरों से पाठ के लिए रामचरित मानस मंगाई जाती है। ऐसे में पाठ करते समय अक्सर लोगों के बाल टूटकर गिर जाते होंगे और पन्नों में फंस जाते होंगे। इसलिए इस तरह की अफवाहों से लोगों बचना चाहिये। वहीं दूसरी ओर आइआइटी के एयरोस्पेस विभाग के प्रोफेसर एवं भारतीय पुरात्तव विभाग के विशेषज्ञ डीपी मिश्रा का कहना है कि यह पूरी तरह अफवाह है। इसमें कोई वैज्ञानिक पहलू नहीं है, इस तरह की बातों से दूर रहें। लोग कोरोना वायरस से बचाव के लिए जरूरी सावधानियां बरतें।

कनिका के शहर आने के बाद ज्यादा चर्चा

कोरोना संक्रमित बॉलीवुड गायिका बेबी डॉल कनिका कपूर के कानपुर आकर जाने की जानकारी के बाद शनिवार को लोगों में ज्यादा चर्चा हो रही है। उनके संपर्क में आए करीब डेढ़ सौ में 32 लोगों के नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। इसके बाद से अफवाहों का भी दौर शुरू हो गया है। एसएसपी अनंतदेव तिवारी कहा कहना है कि शहर के लोग इस तरह की अफवाहों पर कतई ध्यान न दें। कोरोना वायरस से बचाव के लिए जरूरी सावधानी और सुरक्षा उपायों को अमल में लाएं। बच्चों बौर बुजुर्गों को घर से बाहर न निकलने दें। रविवार को शहर के लोग जनता कफ्र्यू में सहयोग करें और घरों से बाहर नहीं निकले।

No comments