Latest News

पर्याप्त मुआवजा न मिला तो होगा आंदोलन: नसीमुद्दीन

अपने आवास में पूर्व मंत्री ने पत्रकारों से की वार्ता 
50 फीसदी से अधिक का फसलों में बताया नुकसान 

बांदा, कृपाशंकर दुबे । पूर्व मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कई गांवों का भ्रमण करते हुए बारिश और फसलों से हुए नुकसान का जायजा लिया। नुकसान का जायजा लेने के बाद रविवार को अपने आवास में मीडिया से बात करते हुए पूर्व मंत्री ने कहा कि 50 फीसदी से अधिक फसलें बर्बाद हुई हैं, लेकिन प्रदेश सरकार कुछ प्रतिशत ही फसलों का नुकसान मान रही है। पूर्व मंत्री ने कहा कि किसानों को पर्याप्त मुआवजा नहीं मिला तो आंदोलन किया जाएगा। 
पत्रकारों से वार्ता करते पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी, साथ में जिलाध्यक्ष कांग्रेस राजेश दीक्षित
प्रेस वार्ता के दौरान पूर्व मंत्री श्री सिद््दीकी ने प्रभारी मंत्री पर तहसीलदारों का पक्ष लेने का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने किसानों की बात नहीं सुनीं। तहसीलदारों द्वारा पेश किए गए आंकड़ों के आधार पर मंत्री ने नुकसान को मान लिया। श्री सिद्दीकी ने सरकार को खबरदार किया कि ओला और बारिश पीड़ित किसानों को पर्याप्त मुआवजा नहीं मिला तो सदन से लेकर सड़क तक कांग्रेसजन आंदोलन करेंगे। जब तक किसानों को पर्याप्त मुआवजा नहीं मिलेगा तो सदन भी नहीं चलने देंगे। दो दिनों से वह लगातार आपदा पीड़ित गांवों का भ्रमण कर रहे हैं। चित्रकूटधाम मंडल में बड़े पैमाने पर ओला और बारिश से किसानों की फसलें बर्बाद हुई हैं। इतना ही नहीं अन्ना पशुओं से भी किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है और सरकार अन्नादाताओं की इस बर्बादी को तवज्जो नहीं दे रही। यहां तीन बार बारिश हुई और रही-सही कसर ओलावृष्टि ने पूरी कर दी। लेकिन प्रदेश सरकार इस आपदा को काफी कम आंक रही है। जबकि मंडल में 50 फीसदी से ज्यादा का नुकसान हुआ। इधर, पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने केंद्र और प्रदेश सरकार पर बुंदेलखंड के विकास में उपेक्षा के आरोप लगाए। कहा कि उनके कार्यकाल में बनाया गया मेडिकल कालेज कचरा के रूप में तब्दील हो गया है। 

No comments