Latest News

पोषण चैपाल में कोरोना के प्रति किया जागरुक

मऊ (चित्रकूट), सुखेन्द्र अग्रहरी । विकास खण्ड रामनगर के गाँव इटवां में पोषण चैपाल का आयोजन हुआ। पिरामल फॉउंडेशन, नीति आयोग के खण्ड विकास परिवर्तन अधिकारी हेमन्त कुमार वर्मा ने समुदाय को कोरोना वायरस से बचने के लिए विस्तार से बताया कि विश्व संगठन के मुताबिक रिसर्च में ये सामने आया है कि यह वायरस हवा में नही बल्कि सांस लेने, छोड़ने और खाँसने के वजह से फैल रहा है। यह फ्लू जैसी बीमारी से फैलता है। इसके लक्षण बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ है। इसलिए सावधानियां बरते। जिससे खुद भी बचे
जानकारी देते अधिकारी।
और दूसरे को भी बचाएं। जैसे खांसते या छींकते समय मुह पर रूमाल या गमछा रखे। बार-बार साबुन से 20 से 30 सेकंड तक अच्छी तरह हाथ धोये। जिस व्यक्ति को खांसी,सांस लेने में परेशानी या बुखार हो उनके निकट सम्पर्क से बचे और दूरी बनाए। उन्होंने बताया कि बच्चे को जन्म के एक घण्टे के अंदर स्तनपान जरूरी है। छह माह तक बच्चे को केवल स्तनपान कराना है। जिसके साथ कोई भी घुट्टी, शहद और पानी नही देना है। इसके बाद से बच्चे को अन्नपूरक आहार देना शुरू करे। बच्चा अतिकुपोषित है तो पोषण पुनर्वास केंद्र भेजे। इस मौके पर देवीदयाल पाल, रेखा देवी, शोभा सेन, सुनीता देवी, मिथलेश कुमारी, कान्ति देवी गांव का अन्य समुदाय मौजूद रहा।

No comments