Latest News

लाक डाउन पर दुरुस्त रखे व्यवस्थाएं: डीएम

एसपी ने तत्काल ड्यूटी पास बनवाने के दिए निर्देश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरी । जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय तथा पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ जनपद को लाक डाउन किए जाने के संबंध में आवश्यक बैठक संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने अधिकारियों से कहा कि प्रदेश में लाक डाउन लागू हो गया है। जिसमें उप जिलाधिकारी तथा पुलिस क्षेत्राधिकारी क्षेत्र का भ्रमण कर सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त कराएं। लोगों को जागरूक करें। इसके अलावा खंड विकास अधिकारियों से कहा कि जो ग्रामवार सूचनाएं उपलब्ध कराना है उसे तीन दिन के अंदर दें। कोई भी जनपद स्तरीय अधिकारी मुख्यालय नहीं छोड़ेगा। उन्होंने कहा कि जोनल तथा सेक्टर मजिस्ट्रेट क्षेत्र के पुलिस अधिकारियों के साथ लगातार भ्रमण कर सुरक्षा व्यवस्था कायम रखें। उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तुओं की जो भी सेवाएं लागू है वह चालू रहेंगी। आपूर्ति चलती रहे। उन्होंने कहा कि 25 से 27 मार्च तक जनपद को लाक डाउन घोषित किया गया है। मुख्य विकास अधिकारी कोरोना वायरस के बचाव एवं रोकथाम के नोडल
बैठक में निर्देश देते डीएम, एसपी।
अधिकारी बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि तहसीलों में उप जिलाधिकारी दिशा निर्देश पर सभी खंड विकास अधिकारियों से सूचनाओं का आदान प्रदान करें। उन्होंने कहा कि सभी लोग जनता के लिए व्यवस्थाएं अभी से ही सुनिश्चित कर लें। ताकि कोई समस्या न हो। उन्होंने कहा कि खासतौर पर विद्युत, पेयजल की सप्लाई निरंतर जारी रहे। उन्होंने अपर जिलाधिकारी से कहा कि सभी अधिकारियों को वाहनों तथा स्वयं का पास जारी  करा दे और कंट्रोल रूम की व्यवस्था कराएं। इसके अलावा जो जनपद में एक मार्च के बाद बाहर से व्यक्ति आए हैं। सभी का वेरिफिकेशन कराते हुए स्वास्थ्य परीक्षण करें। इसकी सूचना खंड विकास अधिकारी, प्रधान व सचिवों के माध्यम से तत्काल उपलब्ध कराएं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि सभी चिकित्सालयों में मास्क, सैनेटाइजर, दवाओं की उपलब्धता रहे। यह सुनिश्चित कर ली जाए किसी भी गांव से कोई सूचना आती है तो तत्काल उस पर कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि सभी लोग मोबाइल 24 घंटे खुले रखेंगे। इसमें किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जाए। जिला पूर्ति अधिकारी से कहा कि सभी उचित दर विक्रेताओं को निर्देश जारी कर गांव तथा शहरों में खाद्यान्न दिलाएं। कहीं पर कोई खाद्यान्न की समस्या नहीं होनी चाहिए। उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी तथा अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद कर्वी को निर्देश दिए की सफाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जाए।
पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने अधिकारियों से कहा कि स्वास्थ्य, राजस्व, विद्युत, नगर निकाय, पूर्ति सूचना आपदा प्रबंधन, पोस्ट ऑफिस, बैंक, पेट्रोल पंप, गैस एजेंसी, मेडिकल स्टोर, राशन की थोक व फुटकर दुकाने, पशुओं के चारा आदि विभागों के जो संबंधित लोग हैं उनके ड्यूटी पास तत्काल बनवा लें। ताकि कोई समस्या न हो। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी से कहा कि स्वास्थ्य विभाग की टीमें जो गांव में जा रही है वह एकत्र होकर नहीं जाए। उनको निर्देश जारी कर दें कि 102 ,108 तथा 112 की व्यवस्था का प्रयोग करें। सभी थानों पर उप जिलाधिकारी अपने स्तर से संपर्क कर राजस्व अधिकारियों तथा बीट प्रभारियों की भी ड्यूटी सुनिश्चित करें। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, उप जिलाधिकारी कर्वी अश्वनी कुमार पाण्डेय, मऊ राजबहादुर, मानिकपुर संगम लाल, राजापुर राहुल कश्यप, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, परियोजना निदेशक अनय कुमार मिश्रा, जिला पंचायत राज अधिकारी राजबहादुर सहित संबंधित अधिकारी तथा पुलिस के अधिकारी मौजूद रहे।

आवश्यक वस्तुओ की जारी रहेगी आपूर्ति

अधिकारी, व्यापारियों के साथ हुई बैठक
चित्रकूट। जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद में लाक डाउन होने की स्थिति में आवश्यक वस्तुओं की कमी न होने के संबंध में जनपद के सभी व्यापारिक संगठनों में मण्डी, दवा, राइस मिल, फ्लोर मिल, सब्जी विक्रेता, दूध, व्यापारी, डेयरी, फल विक्रेता, जानवरों के चारा विक्रेता, पेट्रोल पंप एसोसिएशन, एलपीजी एसोसिएशन, सुपर मार्केट के प्रोपराइटर एवं किराना एसोसिएशन के लोगों के साथ आवश्यक बैठक संपन्न हुई।
जिलाधिकारी ने कहा कि आवश्यक वस्तुओं का निर्माण, उत्पादन, परिवहन एवं उपलब्धता उचित मूल्य पर सुनिश्चित रहे। इस पर कोई बाधा उत्पन्न नही हो। वस्तुएं अधिकतम खुदरा मूल्य उचित मूल्य पर उपलब्ध रहें। फल, सब्जी, खाद्यान्न मण्डी में निर्बाध आवक व आपूर्ति सुनिश्चित कराई जाए। जिला पूर्ति अधिकारी से कहा कि कंट्रोल रूम की स्थापना तथा कंट्रोल रूम में प्राप्त होने वाली समस्याओं का निवारण तत्काल हो। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के खाद्यान्न की निकासी व उठान निर्धारित रोस्टर के अनुसार एवं उनके वाहनों का आवागमन सुनिश्चित कराया जाए। उन्होंने खाद्य एवं औषधि प्रशासन के अधिकारियों से कहा कि जीवन रक्षक दवाइयों, मास्क एवं सैनेटाइजर की उपलब्धता तथा निर्धारित मूल्य पर बिक्री सुनिश्चित कराई जाए। आवश्यक वस्तुओं के परिवहन के लिए जिला पूर्ति अधिकारी पास आदि की सुविधा उपलब्ध कराएं। इस संबंध में पुलिस अधिकारियों से भी दिशा-निर्देश प्राप्त कर लें। उन्होंने कहा कि राज्य स्तर पर स्थापित टोल फ्री नंबर 18001800150 पर जो 24 घंटे क्रियाशील रहेगा। इस संबंध में कोई भी सूचना दी जा सकती है। जिला पूर्ति अधिकारी ने बताया कि जनपद में कंट्रोल रूम की व्यवस्था कर दी गई है। जिसमें 13 कर्मचारी तीन पालियों में 24 घंटे तैनात रहेंगे। किसी भी तरह की कालाबाजारी, भंडारण, अतिरिक्त पैसा लिए जाने या फिर राशन आपूर्ति से जुड़ी किसी भी समस्या की शिकायत कंट्रोल रूम के नंबर 7839564676 पर की जा सकती है। शिकायतों का तत्काल निस्तारण किया जाएगा। जिलाधिकारी ने व्यापारिक संगठनों से कहा कि सामानों के आवागमन पर कोई समस्या नहीं होगी। गाड़ियों की सूची दी जाए कि कौन सामग्री कहां से आ रही है। जनपद में जीवन रक्षक दवाएं, मास्क तथा सेनेटाइजर की व्यवस्था अवश्य रहे। जरूरत की चीजें सभी उपलब्ध हों। सभी वस्तुओं की सप्लाई जारी रखें। प्रशासन सहयोग करेगा। मूल्य में वृद्धि कतई नहीं होगी। अन्यथा कठोर कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि जनपद को लाक डाउन घोषित किया गया है। सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित रहे। ताकि जनता को किसी भी प्रकार की समस्या न हो। इसका विशेष ध्यान दें। बैठक में अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, जिला पूर्ति अधिकारी धु्रवराज यादव, जिला विपणन अधिकारी सहित व्यापार मंडल के ओम केसरवानी, पंकज अग्रवाल, अतुल प्रताप सिंह आदि मौजूद रहे।

No comments