Latest News

लाॅकडाउन के चलते टैªक्टर से सफर करने को मजबूर है लोग

जालौन, अजय मिश्रा । लाॅकडाउन के बाद भी बाहर रह रहे लोगों का अपने घरों तक पहुंचने का सिलसिला जारी है। इस बार फरीदाबाद से ट्रैक्टर में सवार दो दर्जन से अधिक लोग छतरपुर के लिए जाते दिखे। 
प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते 14 अप्रैल तक देश भर में लाॅक डाउन किए जाने की घोषणा की गई है। जो लोग अपने घरों से निकलकर दूसरे प्रांत अथवा अन्यत्र मेहनत मजदूरी या अन्य काम के लिए गए थे। काम न मिलने के चलते वह वापस घर लौटने के लिए मजबूर हैं। लोग किसी भी तरह से अपने घरों तक पहुंचने की कवायद में लगे हैं। ऐसा ही नजारा शुक्रवार की दोपहर कोंच चैराहे पर देखने को
ट्रैक्टर ट्राॅली में सवार दो दर्जन से अधिक लोग
मिला। जहां एक ट्रैक्टर और ट्राॅली में दो दर्जन से अधिक लोग बैठकर निकल रहे थे। कोंच चैराहे पर तैनात पुलिस कर्मियों से जब उनसे पूछतांछ की तो उन्होंने बताया कि वह छतरपुर जिले के रहने वाले हैं। फरीदाबाद में रहकर वह मेहनत मजदूरी करते है। लाॅक डाउन के चलते उन्हें काम नहीं मिल रहा है। उनके पास इतने रुपये नहीं हैं कि वह घर बैठकर खा सकें। जिसके चलते उन्हें वापस लौटने को मजबूर होना पड़ रहा है। कोई वाहन न चलने की वजह से वह ट्रैक्टर से वापस अपने गांवों को लौट रहे हैं। संक्रमण के संबंध में पूछने पर उन्होंने बताया कि प्रशासन ने उनका चैकअप कराकर उन्हें भेजा है। पुलिस कर्मियों ने उन्हें अपने गांव पहुंचकर एक बार फिर चैकअप कराने की सलाह देकर उन्हें जाने दिया।

No comments