कोरोना का खौफ: बाजारों में नहीं दिखाई दी रौनक - Amja Bharat

Amja Bharat

All Media and Journalist Association

Breaking

Advt.

Advt.

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Monday, March 23, 2020

कोरोना का खौफ: बाजारों में नहीं दिखाई दी रौनक

जरूरतमंद ही निकल रहे बाहर, व्यवस्था में हो सकता परिवर्तन
  
फतेहपुर, शमशाद खान । कोराना वायरस का कहर बढ़ने के साथ ही केन्द्र एवं प्रदेश सरकार बेहद सतर्क हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आहवान पर किये गये जनता कफ्र्यू के बाद जहां प्रदेश के पन्द्रह जनपदों में लाक डाउन कर दिया गया है वहीं इस जनपद में सोमवार को बाजार तो खुले लेकिन कोरोना का खौफ साफ नजर आया। बाजारों में पहले जैसी रौनक भी नही दिखाई दी। जरूरतमंद लोग ही सड़कों पर दिखाई दिये। इस बाबत लोगों का कहना है कि सतर्कता ही बचाव है। इसलिए वह जरूरत पर ही बाहर आ रहे हैं। दूसरों को भी इसके प्रति जागरूक करने का काम कर रहे हैं। 
चौक बाजार में खुली दुकानों के बीच सन्नाटे का दृश्य।
बताते चलंे कि कोरोना वायरस पड़ोसी देश चीन के वुहान शहर से निकला था। इस वायरस ने पूरे विश्व को अपनी चपेट में ले लिया है। इससे अछूता भारत देश भी नहीं है। यहां भी अब तक लगभग चार सौ कोरोना पाजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं। इस महामारी को रोकने के लिए केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा कड़े कदम उठाये जा रहे हैं। जिसका सभी लोगों द्वारा स्वागत भी किया जा रहा है। रविवार को पीएम के आहवान पर पूरे देश में एक साथ जनता कफ्र्यू किया गया। जो बेहद सफल रहा। रविवार को जिले की भी सभी दुकानें, प्रतिष्ठान बंद रहे। लोग सड़कों पर भी नहीं दिखाई दिये। पूरी तरह से सन्नाटा पसरा रहा। सीएम योगी आदित्यनाथ ने देर शाम बैठक करके जहां लोगों को सहयोग करने पर धन्यवाद दिया। वहीं जिन शहरों में कोरोना पाजिटिव मरीज पाये गये थे उन सभी पन्द्रह शहरों में लाकडाउन की घोषणा कर दी है। इसके अलावा फतेहपुर जनपद में जनता कफ्र्यू समाप्त होने पर सोमवार को बाजार निर्धारित समय पर खुल गये। पूरा दिन लोगों के बीच कोरोना वायरस को लेकर ही चर्चा होती रही। सुबह लगभग ग्यारह बजे मार्केट खुल तो गया लेकिन ग्राहकों की आवाजाही बेहद कम रही। शाम को जब व्यापारियों से इस विषय पर बात की गयी तो उनका कहना रहा कि वह सभी कोरोना से लड़ने के लिए तैयार हैं। यदि सरकार का अगला निर्देश प्राप्त होता है तो वह सभी फिर से बाजार बंद करने के लिए तैयार हैं। यह भी बताया कि आज बाजार बेहद ठण्डी रही। ग्राहकों का बेहद टोटा रहा। जरूरतमंद लोग ही सड़कों पर दिखाई दिये। उधर ज्यादातर लोगों का मानना है कि कोरोना वायरस की इस लड़ाई में हम सभी को मिलकर चलना होगा। जागरूकता से ही इसको रोका जा सकता है। आस-पास भीड़ नही लगानी है। साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देना है। लोगों के सम्पर्क में कम आना है। कुल मिलाकर समूचे जनपद में कोरोना का खौफ साफ दिखा। उधर लोगों का यह भी मानना रहा कि यदि हालात न सुधरे तो व्यवस्था में परिवर्तन भी हो सकता है। इसका सभी को पालन करना है। 

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages