Latest News

भागवत श्रवण से मुक्त होंगें पाप: नवलेश

चित्रकूट, सुखेन्द्र अग्रहरी । भागवत कथा का शुभारंभ मुख्यालय के गंगाजी रोड स्थित जायसवाल मैरिज हाल में भव्य कलश यात्रा के साथ हुआ। भागवताचार्य नवलेश दीक्षित ने भागवत कथा के महत्व को बताया। 

सोमवार को मुख्यालय के महादेव प्रसाद अग्रहरि के निवास सेे भव्य कलश यात्रा निकाली गई। महिलाएं सिर में कलश लेकर मंदाकिनी नदी का जल लेकर वापस कथा स्थल पर पहुंचीं। कथा व्यास ने प्रथम दिन कथा रसपान कराते हुए भागवत को भवसागर पार करने का सबसे बडा साधन बताया। जिसे सुनने से पापो से मुक्ति मिलती है। किए गए कार्य पूर्ण होते हैं। घर में खुशहाली आती है। भागवत कथा में भागवान श्रीकृष्ण सहित सभी देवताओं के बारे में विस्तृत वर्णन है। इस मौके पर सचिन अग्रहरि, सुधीर अग्रहरि आदि सैकडों श्रोतागण मौजूद रहे।


No comments